रायपुर। एक नामी कंपनी की चाय दावे के विपरीत स्वास्थ्यवर्धक नहीं मिली है। फूड एंड ड्रग विभाग की जांच में इसकी पुष्टि हुई है। विभाग ने 16 दिनों पहले रायपुर स्थित गोदाम से तीन करोड़ की चाय सील किया था। अधिकारियों का कहना है कि चाय की जांच में भ्रामक जानकारी व मिथ्या वादा की पुष्टि हुई है। मामले को कोर्ट में ले जाया जाएगा।
फूड एंड ड्रग विभाग ने हिंदुस्तान यूनीलीवर लिमिटेड की ब्रुक बांड रेड लेबल व ब्रुक बांड ताजा चाय का सैंपल लिया था। तीन करोड़ की चाय को जब्त भी किया गया था। विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर डॉ. अश्विनी देवांगन ने बताया कि दोनों ही सैंपल फेल हुए है। चाय को स्वास्थ्यवर्धक, स्वादिष्ट व हेल्दी बताया गया था। जांच में यह दावा गलत साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि यह मिस लीडिंग व मिस ब्रांडिंग का मामला है। इस मामले में कंपनी के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है। अब वेंडरों की जानकारी भी मंगाई गई है। इसके बाद मामले को कोर्ट में ले जाया जाएगा। यही नहीं जब्त चाय को कंपनी को वापस नहीं किया जाएगा।

शोर-शराबे के बीच हुआ टी ट्रेडर्स एसोसिएशन का चुनाव

एक कप चाय हो जाए

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप