बीजापुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जिले के मिरतुर थाना क्षेत्र के चेरली के पास शुक्रवार को हुए एक नक्सली हमले में सीएएफ [ छत्तीसग़ढ आर्म्‍ड फोर्स ] 10वीं वाहिनी के दो जवान शहीद हो गए, जबकि दो जवान घायल हैं।

 मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को मिरतुर थाना क्षेत्र के चेरली स्थित सीएएफ 10वीं वाहिनी के जवान निर्माणाधीन स़डक सुरक्षा के लिए निकले हुए थे। इसी दौरान घात लगाए नक्सलियों ने सुबह करीब 10.30 बजे जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी। सबसे आगे चल रहे जवान हेमंत कुमार मलिकर और सहायक आरक्षक गुब्बाराम कश्यप घटनास्थल पर ही शहीद हो गए, वहीं आरक्षक सहदेव रजवा़डे और सहायक आरक्षक मु़डाराम क़डती घायल हो गए। दोनों घायल जवानों को भैरमग़ढ अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद हेलिकॉप्टर से रायपुर रिफर कर दिया गया है। शहीद हेमंत कुमार का पैतृृक निवास राजनांदगांव जिले के थाना लालबाग के ग्राम सोनसेरा व गुब्बाराम का बीजापुर जिले के डेगामेटा, मिरतुर में है। दोपहर बाद पुलिस लाइन में अंतिम सलामी देने के बाद शहीदों के शव गृृहग्राम रवाना कर दिए गए।
------------------------
पुलिस भर्ती में हिस्सा लेने वाले युवक की माओवादियों ने की हत्या
सुकमा, नईदुनिया न्यूज।जिले के गादीरास थाना क्षेत्र के कोर्रा पंचायत के धुरवारास गांव में माओवादियों ने 25 वर्षीय युवक महेंद्र मंडावी की धारदार हथियार से हत्या कर दी। मिली जानकारी के अनुसार महेंद्र गुरुवार की रात घर में सो रहा था। करीब दो बजे हथियारबंद नक्सली गांव में आ धमके। उन्होंने महेंद्र को अगवा किया और अपने साथ गांव के पास के जंगल में ले गए। पूछताछ के दौरान नक्सलियों ने उसकी पहले जमकर पिटाई की। इसके बाद कुल्हा़डी से सिर के पिछले हिस्से में वार कर उसकी हत्या कर दी। शुक्रवार शाम चार बजे युवक का शव पीएम के लिए जिला मुख्यालय लाया गया। एसपी आईके एलिसेला ने घटना की पुष्टि करते बताया कि सीआरपीएफ की बस्तर बटालियन के लिए स्थानीय युवकों से हो रही भर्ती में महेंद्र ने भी हिस्सा लिया था। नक्सली इस बात से नाराज थे।

छत्तीसगढ़ में चरणबद्ध शराबबंदी आखिरी उद्देश्य : मुख्यमंत्री

Posted By: Bhupendra Singh