नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। इंटरनेट के बढ़ते उपयोग के चलते आजकल सभी कार्य डिजिटल होते जा रहे हैं। इसी बीच हम आपको एक ऐसी एप डिजीलॉकर (DigiLocker) के बारे में बता रहे हैं, जिसका इस्तेमाल निजी डॉक्यूमेंट को ऑनलाइन सेव करने के लिए किया जाता है। आज के समय में सभी डॉक्यूमेंट्स को साथ रखना तो जरूरी है, लेकिन उन्हें साथ रखना आसान नहीं है, जिसके चलते कई बार डॉक्यूमेंट्स खोने का खतरा भी बना रहता है। अब इसके लिए चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि डिजीलॉकर एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जिसमें आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस को सेव करके रख सकते हैं।

आप इन डॉक्यूमेंट को डिजीलॉकर में सेव कर सकते हैं:

1. डिजीलॉकर ने UIDAI के साथ भागीदारी की है, जिससे नागरिकों को डिजिटल आधार कार्ड नंबर का इस्तेमाल करने की अनुमति मिल सके।

2. डिजीलॉकर ने सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के साथ भागीदारी की है, जिससे नागरिकों को डिजिटल ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी का इस्तेमाल करने की अनुमति मिल सके।

3. डिजीलॉकर में आप पर्मानेंट अकाउंट नंबर (PAN) कार्ड भी सेव कर सकते हैं। मेंबर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से रियर-टाइम PAN वेरिफिकेशन रिकॉर्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

4. डिजीलॉकर ने सीबीएसई के साथ भी भागीदारी की है, जिसके जरिए स्टूडेंट्स की मार्कशीट का डिजिटल वर्जन प्रोवाइड किया जा सके। इन मार्कशीट को रजिस्टर्ड और नॉन-रजिस्टर्ड CBSE दोनों स्टूडेंट्स एक्सेस कर सकते हैं।

डिजीलॉकर पर ऐसे अपलोड करें डॉक्यूमेंट:-

1. डिजीलॉकर पर डॉक्यूमेंट अपलोड करने के लिए सबसे पहले डिजीलॉकर एप डाउनलोड करके लॉगिन करने की जरूरत है।

2. एप डाउनलोड होने के बाद सबसे पहले अपलोड डॉक्यूमेंट पर क्लिक कीजिए।

3. उसके बाद अपलोड आइकन पर क्लिक कीजिए।

3. अब लोकल ड्राइव से फाइल ढूंढ कर अपलोडिंग के लिए 'ओपन' का चयन करना है।

3. अपलोड की गई फाइल के लिए उसका प्रकार असाइन करने के लिए 'सिलेक्ट डॉक टाइप' पर क्लिक करना होगा। यहां सभी डॉक्यूमेंट एक साथ दिखाई देंगी।

4. अब डॉक्यूमेंट का प्रकार चुनने के बाद सेव पर क्लिक कीजिए। यूजर फाइल का नाम भी बदला सकता है।

यह भी पढ़ें: अब वैलिड एड्रेस प्रूफ के बिना ऐसे बदलें अपने आधार का पता 

Posted By: Sajan Chauhan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप