नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। करदातों की सुविधा के लिए आयकर विभाग ने आयकर फाइलिंग का एक हल्का वर्जन ‘ई-फाइलिंग लाइट’ सुविधा लॉन्च की है। आयकर विभाग इस सुविधा से आयकर रिटर्न फाइलिंग को तेज और आसान बनाना चाहती है। 'ई-फाइलिंग लाइट' पोर्टल को मुख्य आयकर ई-फाइलिंग वेबसाइट के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है।

नई सुविधा उन करदाताओं के लिए विशेष रूप से उपयोगी है जो आयकर विभाग की वेबसाइट पर ई-फाइलिंग आईटीआर के अलावा कोई अन्य गतिविधि नहीं करना चाहते हैं। यह 1 अगस्त से शुरू है। ई-फाइलिंग वेबसाइट पर सभी रजिस्टर्ड यूजर्स के पास ई-फाइलिंग सुविधा तक पहुंचने के दो तरीके हैं। करदाता आईटीआर फाइल करने के लिए दोनों तरीकों में से किसी भी सुविधा का उपयोग करने के लिए स्वतंत्र हैं। आयकर ई-फाइलिंग वेबसाइट के होमपेज के बाईं ओर एक नया सेक्शन है - 'क्विक आईटीआर फाइलिंग' - जो आपको 'लाइट' पोर्टल पर ले जाता है।

ई-फाइलिंग पोर्टल पर आप आईटीआर दाखिल कर सकते हैं, इसकी ई-सत्यापन प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं, प्री-फिल एक्सएमएल डाउनलोड कर सकते हैं, फॉर्म 26 एएस (सोर्स क्रेडिट पर कर में कटौती के लिए) देखें और ई-फाइल किए गए आयकर रिटर्न (एक्सएमएल के बिना) की जांच करें।

हालांकि, यदि आप ई-प्रोसेडिंग, ई-निवारन, अनुपालन, कार्यसूची और प्रोफ़ाइल सेटिंग्स जैसी अन्य सुविधाओं का उपयोग करना चाहते हैं, तो आपको पोर्टल के फुल वर्जन पर जाने की आवश्यकता है, जहां पहुंचने के लिए 'पोर्टल लॉगिन' बटन पर क्लिक करना होगा।

'लाइट' वर्जन का उद्देश्य करदाताओं की सभी श्रेणियों द्वारा आसान और त्वरित आईटीआर फाइलिंग को सक्षम करना है। करदाताओं को राहत देने के लिए, सरकार ने वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए आईटीआर दाखिल करने की नियत तारीख को 31 अगस्त तक बढ़ा दिया है।  

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitesh