नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश में Aadhaar Card की जरूरत हर काम में पड़ती है। मसलन आपको बैंक में खाता खुलवाना हो, पीएम किसान स्कीम (PM Kisan Scheme) का लाभ प्राप्त करना हो, कोरोनावायरस की वैक्सीन लेनी हो तो भी 12 अंक की इस पहचान संख्या की जरूरत पड़ती ही है। ऐसे में जरूरी है कि Aadhaar Card में दर्ज सभी तरह की जानकारी बिल्कुल दुरुस्त हो। इसका मतलब है कि आधार कार्ड में आपका नाम, जन्म की तारीख, पता, बिल्कुल सही होना चाहिए, वरना दिक्कत पेश आ सकती है। इसके लिए हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आधार रजिस्ट्रेशन में किसी तरह की चूक ना हो। 

इसी तरह अगर आप अपने बच्चे का आधार कार्ड बनवा रहे हैं तो रजिस्ट्रेशन में हर जानकारी सही होनी चाहिए। Aadhaar Card जारी करने वाले संगठन UIDAI ने ट्वीट किया है कि अपने बच्चे के आधार का डेटा सही हो, इसे सुनिश्चित कीजिए। अंग्रेजी और स्थानीय भाषा में दर्ज विवरण की वर्तनी को ध्यान से चेक कीजिए। आप एकनॉलेजमेंट स्लिप में दोबारा इसे चेक कर सकते हैं। पूरी तरह संतुष्ट होने पर ही एकनॉलेजमेंट स्लिप पर हस्ताक्षर कीजिए। 

इसके साथ ही आधार कार्ड में जन्मतिथि से जुड़ी जानकारी सही भरी गई है, इसे भी फॉर्म सबमिट करने से पहले चेक कीजिए। इसकी वजह यह है कि इसे बाद में केवल एक बार दुरुस्त किया जा सकता है। 

UIDAI की यह सलाह व्यस्क व्यक्ति के लिए भी लागू होता है। इसका मतलब आप रजिस्ट्रेशन के समय यह सुनिश्चित कीजिए कि ऑपरेटर सही जानकारी प्रविष्ट करे।  

हालांकि, तमाम सावधानी के बाद Aadhaar Card में दर्ज विवरण में चूक हो जाती है तो आप घर बैठे अधिकतर विवरण को सही कर सकते हैं। इसकी प्रक्रिया काफी आसान है। अगर आपको आधार कार्ड में मोबाइल नंबर लिंक कराना है या लिंक मोबाइल नंबर को अपडेट कराना है तो आपको निकटतम आधार सेवा केंद्र जाना होगा। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप