नई दिल्ली (जेएनएन)। इन दिनों शादियों का सीजन चल रहा है ऐसे में सोने-चांदी की बिक्री तेज हो जाती है। वहीं इस दौरान धोखाधड़ी की शिकायतें भी तेजी से सामने आने लगती है। आमतौर पर लोग शिकायत करते हैं कि उन्हें उनकी ओर से अदा की गई कीमत के लिहाज से वाजिब शुद्धता वाला सोना नहीं मिला। ऐसे में ग्राहक को सोना खरीदते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए ताकि आप दुकानदार के धोखे से बच पाएं। आपको यह जानकर निश्चित तौर पर हैरानी होगी कि आपके गहने में लिखे अंक ही यह बताने के लिए काफी होते हैं कि आपका सोना कितना शुद्ध है। हम अपनी इस खबर के माध्यम से आपको यही बताने की कोशिश करेंगे।

24 कैरेट गोल्ड की नहीं बनती ज्वैलरी
हॉलमार्किंग योजना भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम के तहत संचालन एंव नियमन का काम करती है। सबसे पहली बात यह कि असली सोना 24 कैरेट का ही होता है, लेकिन इसके आभूषण नहीं बनते, क्योंैकि वो बेहद मुलायम होता है। आम तौर पर आभूषणों के लिए 22 कैरेट सोने का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें 91.66 फीसदी सोना होता है। हॉलमार्क पर पांच अंक होते हैं। सभी कैरेट का हॉलमार्क अलग होता। मसलन 22 कैरेट पर 916, 21 कैरेट पर 875 और 18 पर 750 लिखा होता है। इससे शुद्धता में शक नहीं रहता।

हॉलमार्किंग से रहें सावधान:
हॉलमार्किंग से सोना-चांदी की शुद्धता प्रमाणित होती है। हालांकि कई ज्वैलर्स बिना जांच प्रकिया के ही हॉलमार्क लगा देते हैं। ऐसे में यह जानना जरूरी हो जाता है कि हॉलमार्क ओरिजनल है या नहीं? असली हॉलमार्क पर भारतीय मानक ब्यूरो का तिकोना निशान बना होता है।

हॉलमार्किंग के नीचे लिखी होती है सोने की शुद्धता:
गहनों में हॉलमार्किंग सेंटर के लोगो के साथ सोने की शुद्धता भी लिखी होती है। उसी में ज्वैलरी के निर्माण का वर्ष और उत्पादक का लोगो भी बना होता है। ज्वैलरी में एक अंक लिखा होता है जिसके तहत असली सोने की पहचान की जाती है।

शुद्धता के हिसाब से आभूषणों में ये अंक अंकित होते हैं:

• 24 कैरेट: 99.9
• 23 कैरेट: 95.8
• 22 कैरेट: 91.6
• 21 कैरेट: 87.5
• 18 कैरेट: 75.0
• 17 कैरेट: 70.8
• 14 कैरेट: 58.5
• 9 कैरेट: 37.5

उदाहरण से समझिए कि अगर ज्वैलर ने आपको बताया है कि उसने जो अंगूठी बनाई है वो 22 कैरेट की है, तो उसपर 916 अंक जरूर लिखा होगा। यह अंक मैग्निफाइंग ग्लास से देखा जा सकता है। यह अंक पुष्ट करता है कि आपकी अंगूठी 22 कैरेट की ही है।

यह भी पढ़ें: धोखा न खाएं, खुद जाने क्या है आपके सोने की सही कीमत

Edited By: Praveen Dwivedi