नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। आज महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। अपने मेहनत और लगन से वो हर सेक्टर में अपना लोहा मनवा रही हैं। इसके बाद उनके पास घर संभालने की भी जिम्मेदारी होती है। वे नौकरी करके पैसा भी कमा रही हैं। कहते हैं महिलाओं के पास पुरषों की तुलना में बचत करने की अच्छी आदत होती है। लेकिन बचत करने के लिए निवेश करना होगा। निवेश पर बचत के साथ उनका पैसा भी बढ़ता जाएगा। ऐसे में सबसे जरूरी चीज है वित्तीय मामलों की समझ हो। हम इस खबर में ऐसी ही कुछ बड़े बिन्दुओं का जिक्र करेंगे जिनसे महिलाओं को बचत के साथ वित्त की अच्छी समझ विकसित होगी।

कहां कितना खर्च किया समझें

आप जो खर्च करती हैं उनपर गौर करें। आप चाहें तो खर्चों के बारे में कहीं लिखकर रख सकती हैं। रोजाना के खर्च का हिसाब-किताब करके जिसकी जरूरत न हो वहां खर्च न किया करें।

वित्तीय मामलों की समझ

इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी है सोच में बदलाव। एक महिला जब ऑफिस का काम संभाल सकती है, घर देख सकती है तो उसे अपने पैसों की बचत के लिए भी समझ बढ़ानी होगी। कहते हैं इंसान की समझ काम करते-करते और बढ़ जाती है। जीवन में तजुर्बा बहुत काम आता है, और तजुर्बा आता है काम करने से। अगर आप चाहें तो फाइनेंशियल प्लानर की मदद भी ले सकती हैं।

कहां कितना खर्च किया समझें

आप जो खर्च करती हैं उनपर ध्यान दें। आप चाहें तो खर्चों के बारे में कहीं लिखकर रख सकती हैं। रोजाना के खर्च का हिसाब-किताब करके जिसकी जरूरत न हो वहां खर्च न किया करें।

जरूरी चीजों की ही खरीदादरी करें

जितना जरूरी हो और जहां जरूरी हो वहीं खर्च करें। अगर आपको किसी ऑफर के बारे में जानकारी होती है तो पहले खुद से पूछें कि क्या आपको वाकई इस सामान की जरूरत है? अपनी जरूरत का ध्यान रखे बिना खरीदारी ना करें।

ज्यादा से ज्यादा निवेश के लिए सोचें

आप छोटे से छोटे पैसों से भी बचत की आदत डाल सकती हैं, जरूरी नहीं है कि जब ज्यादा पैसा हो तब ही निवेश किया जाए। बैंक में फिक्स्ड डिपाजिट (FD) भी किया जा सकता है। बच्चों के नाम पर कुछ योजना शुरू की जा सकती है। Mutual Fund भी निवेश का अच्छा विकल्प है। अपने निवेश पोर्टफोलियो की सालाना समीक्षा कीजिये। किसी भरोसेमंद वित्तीय सलाहकार से इस बारे में मदद ले सकते हैं।

Posted By: Nitesh