नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। डिजिटल बैंकिंग के आने के बाद से ग्राहकों को बैंकिंग से जुड़े तमाम काम आसानी से घर बैठे करने की सुविधा मिली है। लेकिन, डिजिटल बैंकिंग (Digital Banking) से जुड़े कुछ खतरे भी हैं। दरअसल, डिजिटल बैंकिंग में सुरक्षा को लेकर एक बड़ा खतरा बना रहता है। बीते कुछ समय में डिजिटल बैंकिंग फ्रॉड के बड़ी संख्या में मामले सामने आए हैं। हालांकि, समय-समय पर बैंकों द्वारा डिजिटल बैंकिंग को सेफ और सिक्योर बनाने के लिए ग्राहकों को टिप्स दिए जाते रहे हैं। देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक एसबीआई भी अपने ग्राहकों को समय-समय पर टिप्स देता रहता है। अभी भी एसबीआई की वेबसाइट पर इसे लेकर टिप्स दिए गए हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी वेबसाइट पर लिखा, "प्रिय ग्राहक, आप हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं! इन टिप्स के साथ एक सुरक्षित डिजिटल बैंकिंग अनुभव सुनिश्चित करें।"

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की टिप्स

  1. ईमेल/एसएमएस पर प्राप्त किसी अज्ञात लिंक/अटैचमेंट पर क्लिक न करें।
  2. एसबीआई आपकी संवेदनशील जानकारी एकत्र करने के लिए कभी भी कोई लिंक नहीं भेजता है।
  3. अपने वित्तीय विवरण जैसे- पासवर्ड/कार्ड नंबर/सीवीवी/ओटीपी किसी के साथ साझा न करें।
  4. इनाम/लॉटरी/इनकम टैक्स रिफंड ईमेल/एसएमएस के लालच में न आएं। ये आपकी जानकारी हासिल करने का तरीका है।
  5. कृपया अपने पासवर्ड बार-बार बदलते रहें।

अज्ञात लिंक या अटैचमेंट से बचना चाहिए

एसबीआई ने अपनी इन टेक्स में स्पष्ट रूप से बताया है कि अगर कोई अज्ञात लिंक या अज्ञात अटैचमेंट ईमेल या फिर एसएमएस के जरिए ग्राहकों को मिलता है तो उससे बचने की जरूरत है क्योंकि साइबर ठग इन लिंक्स और अटैचमेंट्स के का आपकी ऐसी संवेदनशील जानकारी इकट्ठा करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं, जिनके जरिए वह आपके बैंक अकाउंट से पैसे निकाल सकें। ऐसे में वह उन व्यक्तियों के बैंक अकाउंट को खाली कर सकते हैं, जिन्होंने उस लिंक पर या अटैचमेंट पर क्लिक किया हो।

Edited By: Lakshya Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट