नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। सरकार ने सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF), मासिक आय योजना (डाकघर MIS), राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC), किसान विकास पत्र (KVP) और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) जैसी छोटी बचत योजनाओं के लिए पोस्ट ऑफिस ब्रांच तक की सुविधा दे दी है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में 1.31 लाख डाकघरों ब्रांच को ऐसी योजनाओं की सुविधा देने में मदद मिलेगी।

ये ब्रांच स्तर के डाकघर पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट, रेकरिंग डिपॉजिट, टाइम डिपॉजिट और सुकन्या समृद्धि खाता योजनाएं देते रहे हैं।

सरकार ने एक बयान में कहा है कि गांवों में रहने वाले लोग भी शहर में रहने वाले लोगों की तरह डाकघर बचत बैंक की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। वे अपनी बचत को इन लोकप्रिय योजनाओं में पोस्ट ऑफिस के माध्यम से अपने गांव में ही जमा कर सकेंगे। 

यह भी पढ़ें: Post Office Saving Scheme: जानिए इस स्कीम में किनती है ब्याज दर, मिनिमम बैलेंस, पात्रता से लेकर हर जानकारी

क्या मिल सकती है सुविधा

1) पीपीएफ, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना और अन्य योजनाओं के खाते खोलना और बाद में चेक के माध्यम से इसे पोस्ट ऑफिस ब्रांच में जमा में किया जा सकता है।

2) पोस्ट ऑफिस एमआईएस और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना खातों की मासिक/त्रैमासिक ब्याज का भुगतान केवल ग्राहक के डाकघर बचत खाते के माध्यम से किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: SBI Pension Seva: आपको मिलते हैं इतने सारे लाभ, जानिए क्या है ये स्कीम और कैसे करवाएं रजिस्‍ट्रेशन

3) पीपीएफ खाते में लोन या निकासी ग्राहक के डाकघर बचत खाते के माध्यम से होगी।

4) यदि form 15G/15H वरिष्ठ नागरिक बचत योजना जमाकर्ता की ओर से शाखा डाकघर में जमा किया जाता है, तो डाकघर संबंधित खाता कार्यालय को भेज देगा।

5) खाता कार्यालय फॉर्म l5G / 15H के अपडेशन को सुनिश्चित करेगा।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस