नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। देश में पोस्‍ट ऑफिस की संख्‍या लगभग 1.5 लाख है। पोस्‍ट ऑफिस सिर्फ चिट्ठियां पहुंचाने का काम ही नहीं करते बल्कि कई तरह की बैंकिंग सुविधाएं भी उपलब्‍ध कराते हैं। पोस्‍ट ऑफिस में आप बैंक की तरह ही सेविंग्‍स अकाउंट खुलवा सकते हैं और इसके लिए भारी भरकम रकम की भी जरूरत नहीं है। मात्र 50 रुपये से भी आप पोस्‍ट ऑफिस में सेविंग्‍स अकाउंट खुलवा सकते हैं। ज्‍यादातर बैंकों की तरह ही पोस्‍ट ऑफिस बचत खातों पर 4 फीसद का ब्‍याज देता है। 

ऐसे खुलवाएं पोस्‍ट ऑफिस में अपना सेविंग्‍स अकाउंट

आप किसी भी पोस्‍ट ऑफिस में अपना सेविंग्‍स अकाउंट खुलवा सकते हैं। हां, खाता खुलवाने के लिए आपको नकद देना होगा। मात्र 50 रुपये से भी आप अपना खाता खुलवा सकते हैं लेकिन इसमें आपको चेक की सुविधा नहीं मिलेगी। चेक की सुविधा के लिए आपको 500 रुपये से अकाउंट खुलवाना होगा और न्‍यूनतम 500 रुपये खाते में मेनटेन करने पड़ेंगे। 

संयुक्‍त बचत खाता भी खुलवा सकते हैं

दो या तीन व्‍यस्‍क मिलकर भी पोस्‍ट ऑफिस में ज्‍वाइंट सेविंग्‍स अकाउंट खुलवा सकते हैं। यहां गौर करने वाली बात यह है कि आप एक पोस्‍ट ऑफिस में एक बार में सिर्फ एक ही खाता खुलवा सकते हैं। आप चाहें तो बच्‍चे के नाम पर भी सेविंग्‍स अकाउंट खुलवा सकते हैं। 10 साल से अधिक उम्र का बच्‍चा/बच्‍ची अपने खाते को खुद ही ऑपरेट कर सकता है। व्‍यस्‍क होने के बाद वह आवेदन देकर अपने सेविंग्‍स अकाउंट को अपने नाम करवा सकता है। 

न्‍यूनतम अकाउंट बैलेंस 50 रुपये होना है जरूरी

इंडिया पोस्‍ट की वेबसाइट के अनुसार, अगर आप चेक सुविधा नहीं लेते हैं तो आपको अपने खाते में न्‍यूनतम 50 रुपये रखने पड़ेंगे। 

10,000 रुपये तक के ब्‍याज पर नहीं देना होगा टैक्‍स

पोस्‍ट ऑफिस के रेगुलर सेविंग्‍स अकाउंट में जमा रकम पर अगर एक साल में आपको 10,000 रुपये तक का ब्‍याज मिलता है तो यह टैक्‍स-फ्री होगा। 

तीन वित्‍त वर्ष में एक ट्रांजेक्‍शन करना है जरूरी

अपने सेविंग्‍स अकाउंट को सक्रिय रखने के लिए यह जरूरी है कि आप तीन वित्‍त वर्ष में कम से कम एक ट्रांजेक्‍शन जरूर करें। जहां तक डिपॉजिट और विदड्रावल की बात है तो ये आप डिजिटली भी कर सकते हैं। इंडिया पोस्‍ट के अनुसार, ATM की सुविधा भी उपलब्‍ध है। 

Posted By: Manish Mishra