नई दिल्ली (पीटीआई)। केंद्र सरकार ने अक्टूबर से दिसंबर तिमाही के लिए जनरल प्रोविडेंट फंड (जीपीएफ) और अन्य संबंधित स्कीम्स की ब्याज दरों को 7.8 फीसद के स्तर पर बरकरार रखा है। वित्त मंत्रायल की ओर से बुधवार को इस संबंध में घोषणा की गई है। जुलाई से सितंबर तिमाही में भी जनरल प्रोविडेंट फंड (जीपीएफ) और अन्य संबंधित स्कीम की ब्याज दरें 7.8 फीसद के स्तर पर थी।

मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए सामान्य भविष्य निधि और अन्य संबंधित योजनाएं पर 7.8 फीसद की दर से ब्याज दिया जाएगा। यह दरें एक अक्टूबर से 31 दिसंबर, 2017 तक लागू रहेंगी। इस सिलसिले में 23 अक्टूबर को अधिसूचना जारी कर दी जा चुकी है। यह दरें केंद्रीय कर्मचारी, रेलवे और सैन्य कर्मियों पर लागू होंगी।

बीते महीने सरकार ने अक्टूबर से दिसंबर तिमाही के लिए पब्लिक प्रोविडेंट फंड (लोक भविष्य निधि) पर मिलने वाली ब्याज दरों 7.8 फीसद के स्तर पर बरकरार रखा था। यह लघु बचत योजना पर देय ब्याज दर के बराबर है।
जानकारी के लिए बता दें कि सरकार ने वित्त वर्ष 2015-16 के दौरान भविष्य निधि योजनाओं पर 8.7 फीसद की दर से ब्याज दिया गया था। इसे वर्ष 2016-17 में घटाकर 8.1 फीसद कर दिया गया था। अब सरकार ने वर्ष 2017-18 के लिए इसे और घटाकर 7.8 फीसद कर दिया है।

Posted By: Surbhi Jain

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप