नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। नौकरी के समय ज्यादातर लोग अपने रिटायरमेंट फंड को लेकर चिंतित नहीं होते। खासकर ऐसे समय में जब नौकरी नई नई हो। लोग या सोचते हैं कि अभी रिटायरमेंट के लिए फंड जुटाने में बहुत समय बचा है और आगे भी नौकरी है तो फंड जुटा लिया जाएगा। हर किसी के लिए यह जानना जरूरी है कि नौकरी खत्म होने के बाद एक शानदार जिंदगी जीने के लिए रिटायरमेंट फंड का होना बेहद जरूरी है।

बहुत सारे लोग रिटायरमेंट प्लानिंग के वक्त कई गलतियां कर जाते हैं। हम इस खबर में बता रहे हैं कि आपको लॉन्ग टर्म निवेश के दौरान किन गलतियों से बचना चाहिए।

1. रिटायरमेंट की योजना समय पर शुरू होनी चाहिए, जो लोग देर से शुरू करते हैं वे गलती करते हैं। जब आप इसके लिए बचत करना शुरू करेंगे फिर लंबी अवधि तक निवेश के बाद ही इसका फायदा आपको मिल पाएगा।

2. व्यक्ति को जोखिम के लिए तैयार रहना चाहिए और इस हिसाब से निवेश विकल्प का चुनाव करना चाहिए। ऐसे निवेश विकल्प जो अस्थिर हैं उनसे दूर रहें और उनमें निवेश न करें। लोगों को अक्सर उच्च रिटर्न का लालच दिया जाता है और जोखिम भरे निवेश विकल्प के बारे में बताया जाता है, लेकिन आप इससे बचें। किसी व्यक्ति की जोखिम लेने की क्षमता उम्र, जिम्मेदारियों और आश्रितों की संख्या के अनुसार अलग-अलग होती है। मसलन, एक अविवाहित व्यक्ति एक विवाहित व्यक्ति की तुलना में अधिक जोखिम उठा सकता है।

3. यदि आपके पास सीमित वित्तीय पूंजी है तो इसकी सुरक्षा का भी ध्यान रखना जरूरी है। एक इमरजेंसी फंड का निर्माण करें, जिसमें नौ महीने से लेकर एक साल तक की राशि हो। फर्ज कीजिये अगर आपको कभी किसी मेडिकल इमरजेंसी या जॉब लॉस का सामना करना पड़ता है, तो कम से कम आपके पास अपने मौजूदा निवेशों में चूक किए बिना अलग से जो फंड बनाया है उसमें से जरूरत पूरी हो जाएगी। 

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस