नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। Indian Railways के 11.56 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को इस त्‍योहारी सीजन में एक और बड़ा गिफ्ट मिल सकता है। फाइनेंस मिनिस्‍ट्री ने उनके House Rent Allowance (HRA) को 1 जनवरी 2021 से लागू करने की मांग पर मंथन शुरू कर दिया है। साथ ही इस प्रस्‍ताव को मंजूरी के लिए रेलवे बोर्ड को भेजा है। अगर ऐसा होता है तो इससे लाखों कर्मचारियों का HRA बढ़ जाएगा। साथ ही मोटा एरियर भी मिलेगा। उन्‍हें करीब 5400 रुपए से लेकर 8100 रुपए महीने तक फायदा होगा।

Indian Railways Technical Supervisors Association (IRTSA) और National Federation of Railwaymen (NFIR) ने HRA को 1 जनवरी 2021 से लागू करने की मांग की थी। क्‍योंकि उस दौरान महंगाई भत्‍ता 25 फीसद का स्‍तर पार कर गया था। AG ऑफिस ब्रदरहुड के पूर्व अध्‍यक्ष और ऑल इंडिया अकाउंट्स और ऑडिट कमेटी के जनरल सेक्रेटरी हरिशंकर तिवारी के मुताबिक महंगाई भत्‍ते में बढ़ोतरी से उनका मकान किराया भत्‍ता (House Rent Allowance, HRA) और यात्रा भत्‍ता (Transport Allowance, TA) भी बढ़ जाएगा। 7th Pay Commission (7वां वेतन आयोग ) के Pay Matrix के मुताबिक हर लेवल के कर्मचारी की सैलरी में अलग-अलग बढ़ोतरी होगी।

HRA के साथ TA भी बढ़ेगा

हरिशंकर तिवारी ने Jagran.com को बताया कि 25 फीसद महंगाई भत्‍ता होने का मतलब है कि HRA के स्‍तर में बढ़ोतरी। इसका असर Transport Allowance पर भी पड़ता है। 7वें वेतन आयोग ने अपनी सिफारिश में यह प्रस्‍ताव किया था कि जब DA 25 फीसद का स्‍तर पार करेगा तो फिर HRA भी बढ़ेगा। इसकी दर 8, 16, 24 फीसद से बढ़कर 9, 18 और 27 फीसद हो जाएगी।

फायदे के रूप में कितनी बढ़ेगी सैलरी

हरिशंकर तिवारी के मुताबिक फायदे के रूप में देखें तो अगर किसी की बेसिक पे 30000 रुपए है तो उसे करीब 5400 रुपए से 8100 रुपए महीने का फायदा होगा। मकान किराए भत्‍ते की रकम को न्‍यूनतम 5400 रुपए महीने पर फिक्‍स रखा गया है। मकान किराया भत्‍ता इससे कम नहीं हो सकता।

Edited By: Ashish Deep