नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। फोर्टिस हेल्थकेयर बोर्ड ने मलेशिया की कंपनी आईएचएच हेल्थकेयर बर्हद के 4000 करोड़ रुपये निवेश करने के ऑफर को स्वीकर कर लिया है। कंपनी के बोर्ड ने आईएचएच हेल्थकेयर के 170 रुपये प्रति शेयर वाले ऑफर को अनुमति दे दी है। इसका मतलब यह है कि आईएचएच हेल्थकेयर को 170 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से प्रिफरेंशियल शेयर जारी किये जाएंगे। अब आईएचएच हेल्थकेयर की ओर से फोर्टिस हेल्थ और फोर्टिस मलार के लिए ओपन ऑफर लाया जाएगा। इस सौदे के लिए शेयरधारक और सीसीआई की मंजूरी लेनी होगी।  

एक बयान में फोर्टिस ने कहा है कि उसने ऑफर स्वीकार कर लिया है। आईएचएच सब्सक्रिप्शन के जरिए 170 रुपये प्रति शेयर भाव से प्रिफरेंशियल अलॉटमेंट करेगा। इसके लिए वह 4000 करोड़ रुपये लगाएगा।    

यह है मामला:

एफएचएल ने सिंह बंधुओं के प्रमोटर और निदेशक रहते तीन कंपनियों को करीब 500 करोड़ रुपये कर्ज दिए थे। बाद में यह कंपनियां सिंह बंधुओं के स्वामित्व में आ गईं। स्वतंत्र जांच एजेंसी ने पाया कि तीनों कंपनियों को दिए कर्ज में कई स्तरों पर लापरवाही बरती गई। फोर्टिस हेल्थकेयर ने बीते शनिवार को कहा कि उसके ऑडिटेड वित्तीय नतीजों में कोई बदलाव नहीं है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि 27 जून को अनऑडिटेड वित्तीय नतीजे जाहिर किए थे, जिसमें ऑडिट के बाद कोई बदलाव नहीं आया है। अनऑडिटेड वित्तीय नतीजों के हिसाब से इस वर्ष मार्च में खत्म तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड शुद्ध घाटा 914.32 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। फोर्टिस बोर्ड के चेयरमैन रवि राजगोपाल ने कहा कि निदेशक बोर्ड के पुनर्गठन के बाद ऑडिटेड नतीजे जारी कर कंपनी ने एक महत्वपूर्ण लक्ष्य हासिल किया है। उन्होंने कहा कि भविष्य में कंपनी का लक्ष्य कॉरपोरेट गवर्नेस को मजबूती देने और पारदर्शिता पर रहेगा। कंपनी इस दिशा में हर संभव प्रयास करेगी।

By Surbhi Jain