नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। भारत के शीर्ष 20 अरबपति लोगों ने वर्ष 2018 में अबतक अपनी नेट वर्थ में 17.85 बिलियन डॉलर का नुकसान दर्ज किया है। इनमें से शीर्ष पांच लोगों ने 15 बिलियन डॉलर खो दिये हैं। यह जानकारी ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स के अनुसार सामने आई है।

टॉप लूजर्स की बात करें तो इनमें गौतम अदानी शामिल है। इनकी नेट वर्थ 3.68 बिलियन डॉलर घटकर 6.75 बिलियन डॉलर के स्तर पर आ गई है। आपको बता दें कि वर्ष 2014 में मोदी सरकार बनने के दौरान सबसे ज्यादा  फायदा गौतम अदानी की परियोजनाओं को हुआ था।

अदानी समूह की चार कंपनियां इस कैलेंडर ईयर में अबतक सात फीसद से 45 फीसद तक टूट चुकी हैं। इन चार कंपनियों में अदानी एंटरप्राइसेज, अदानी पावर, अदानी ट्रांसमिशन और अदानी पोर्ट्स एंड सेज शामिल हैं। इन चारों ने मिलकर वित्त वर्ष 2018 में 3546 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट कमाया है। अदानी ब्लूमबर्ग इंडेक्स में 242वें अमीर व्यक्ति है।

सनफार्मा के मालिक दिलीप सांघवी की संपत्ति में भी कमी दर्ज की गई है। इस कैलेंडर ईयर में उनकी नेटवर्थ 3.48 बिलियन डॉलर घटकर 9.34 बिलियन डॉलर के स्तर पर आ गई है।  ब्लूमबर्ग इंडेक्स में सांघवी 153वें सबसे अमीर व्यक्ति है। इस तरह अजीम प्रेमजी की नेटवर्थ 3.22 बिलियन डॉलर घटकर 14.78 बिलियन डॉलर के स्तर पर आ गई है।

वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी 21वें सबसे अमीर व्यक्ति है। आपको बता दें कि आरआईएल टीसीएस के बाद दूसरी सबसे मूल्यवान कंपनी है। इस कैलेंडर ईयर में कंपनी के शेयर्स में अबतक एक फीसद तक की गिरावट दर्ज की जा चुकी है। वहीं अंबानी के स्वामित्व वाली अन्य कंपनियों में 25 फीसद तक की गिरावट देखने को मिली है।

इस सूची में अगले स्थान पर कुमार बिड़ला है। इनकी आठों लिस्टेड कंपनियों की मार्केट कैप में 19.72 फीसद की गिरावट देखने को मिली है। यह 2,73,932 करोड़ रुपये से घटकर 2,19,904 करोड़ रुपये के स्तर पर आ गई है।  

Posted By: Surbhi Jain