नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। एमेजॉन के शेयर्स की मार्केट वैल्यू पहली बार 900 बिलियन डॉलर के स्तर पर आ गई है। बीते बुधवार को कंपनी ने अपने 21 वर्ष के सफर में यह कीर्तिमान रचा है। रॉयटर्स ने अनुमान लगाया है कि एमेजॉन जल्द ही वाल स्ट्रीट पर लिस्टेड कंपनी एपल से सबसे मूल्यवान कंपनी का तमगा छीन सकती है। दो दशक पहले बेजॉस ने एमेजॉन की स्थापना एक ऑनलाइन बुक रिटेलर के रूप में की थी और आज यह दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित कंपनियों में से एक है।

एमेजॉन की प्राइम डे सेल के बाद बुधवार को कंपनी ने बताया है कि दुनिया भर से ग्राहकों ने करीब 100 मिलियन से ज्यादा के प्रोडक्ट्स खरीदें हैं। कंपनी के शेयर्स ने 0.5 फीसद की बढ़ोतरी के साथ 1,858.88 डॉलर का रिकॉर्ड हाई छुआ है। हालांकि एमेजॉन का वर्तमान बाजार पूंजीकरण 880 अरब डॉलर को पार कर गया है, जो गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट से ज्यादा, लेकिन एपल से कम है।

गौरतलब है कि ब्लूमबर्ग बिलिनायर इंडेक्स के मुताबिक सोमवार को एमेजॉन के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जेफ बेजॉस की संपत्ति 150 अरब डॉलर के पार हो गई। संपत्ति में ताजा बढ़ोतरी ने उन्हें कई दशकों में दुनिया का सबसे धनवान व्यक्ति बना दिया है और उन्होंने दूसरे स्थान पर काबिज बिल गेट्स जैसे अरबपतियों को मीलों पीछे छोड़ दिया है।

 

एमेजॉन के शेयर भाव में जबरदस्त बढ़ोतरी से बेजॉस की संपत्ति में इस वर्ष अब तक 50 अरब डॉलर की बढ़ोतरी हो चुकी है। एमेजॉन में बेजॉस की 16 फीसद हिस्सेदारी है।

ब्लूमबर्ग की नवीनतम रैंकिंग के मुताबिक माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स की संपत्ति करीब 95 अरब डॉलर है। वर्ष 1999 में गेट्स की संपत्ति ने एक बार 100 अरब डॉलर का आंकड़ा पार किया था। लेकिन उसके बाद बेजॉस अकेले इंसान हैं, जिनकी संपत्ति ने इस जादुई आंकड़े को पार किया है। उनकी संपत्ति में यह इजाफा इसलिए चमत्कारिक है, क्योंकि वर्ष 2014 तक उनकी संपत्ति महज 32 अरब डॉलर थी।

 

गौरतलब है कि अमेजन ने अपने प्राइम ग्राहकों के लिए पिछले दिनों 36 घंटों की अवधि का प्राइम डे लॉन्च किया था। हालांकि शुरुआती घंटों में कुछ तकनीकी दिक्कतें आईं, लेकिन कंपनी ने इसे सुधार लिया।

Posted By: Surbhi Jain