नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। कर्मचारी भविष्य निधि यानी EPF वेतन पाने वाले कर्मचारियों के लिए एक रिटायरमेंट सेविंग स्कीम है। वेतनभोगी कर्मचारी जब अपनी जॉब बदलते हैं, तो कर्मचारी अपनी पीएफ राशि को ट्रांसफर करवाते हैं। हालांकि, कर्मचारी जॉब बदलते समय पीएफ अकाउंट में जमा राशि को निकाल भी सकते हैं, पर यह अच्छा विकल्प नहीं माना जाता। पीएफ की राशि को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से ट्रांसफर किया जा सकता है। इसमें ऑफलाइन की तुलना में ऑनलाइन प्रक्रिया काफी आसान और सहज है। बारह अंकों वाले यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) सिस्टम से मिनटों में कर्मचारी अपनी पीएफ की राशि ट्रांसफर करा सकता है। आइए जानते हैं कि पीएफ मनी को ट्रांसफर करने कि प्रक्रिया क्या है।

पीएफ की राशि को ट्रांसफर कराने के लिए सबसे पहले कर्मचारी को ईपीएफओ की वेबसाइट https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface पर जाना होगा और यूएएन नंबर व पासवर्ड डालकर लॉग-इन करना होगा। अब कर्मचारी को ऑनलाइन सर्विसेज में जाना होगा, जहां चार विकल्प दिखाई देंगे। इन विकल्पों में से कर्मचारी को वन मेंबर वन ईपीएफ अकाउंट अर्थात ट्रांसफर रिक्वेस्ट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

अब कर्मचारी के पास UAN की डिटेल आ जाएगी और फिर ट्रांसफर रिक्वेस्ट को प्रोसीड करना होगा। अब सिस्टम द्वारा OTP जनरेट होगा। अब कर्मचारी को ओटीपी डालकर वेरिफाई करना होगा। इसके बाद एंप्लॉयर के पास ट्रांसफर रिक्वेस्ट चला जाएगा।

इन बातों का रखें ध्यान

अपनी पीएफ मनी को ट्रांसफर करवाते समय कर्मचारी को कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। कर्मचारी को यूएएन से आधार नंबर को लिंक कराने के साथ ही अपने सारे केवाईसी अपडेट कर लेने चाहिए। यहां बता दें कि अगर आपका बैंक अकाउंट नंबर और पैन कार्ड नंबर अपडेट नहीं है, तो पीएफ ट्रासफर की प्रोसेस आगे नहीं बढ़ पाएगी। जब पीएफ ट्रांसफर की रिक्वेस्ट चली जाए, तो कर्मचारी को एक बार अपने एंप्लॉयर से भी कंफर्म कर लेना चाहिए। 

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस