हम सभी अपने बचत के पैसों के लिए एक बेहतर निवेश योजना की तलाश में रहते हैं जिससे हम अच्छे रिटर्न पा सकें। देश में बैंकों की लगातार बढ़ती NPA उनके ग्राहकों के विश्वास को लगातार कमज़ोर कर रही है। ऐसे में अपना बचत का पैसा बैंकों में रखकर अच्छे रिटर्न पाने की उम्मीद करना बेमानी होगा। साथ ही अगर आप बाज़ार में मौजूद निवेश योजनाओं में निवेश के लिए जाते हैं तो लगातार गिरती ब्याज दरें निवेशकों को लंबे समय तक अच्छे रिटर्न पाने में मददगार साबित नहीं हो सकती। मसलन, आज से 15 साल पहले बाज़ार में ब्याज दरें 11 प्रतिशत के आसपास थीं, जबकि अब वही ब्याज दरें 7.80 प्रतिशत तक पहुंच गई हैं। ये बड़ा बदलाव सिर्फ़ भारत में नहीं बल्कि दुनियाभर के दूसरे देशों में भी आया है। जैसे-जैसे एक विकासशील देश विकसित होने की ओर बढ़ता है, ऐसे में उसकी अर्थव्यवस्था मज़बूत होती है और ब्याज दरों में कमी आना बेहद ही लाज़मी होता है। इसका मतलब यह है कि आज देश में जो ब्याज दरें 7.80 प्रतिशत के आसपास है, आने वाले एक दशक में इन दरों में भी भारी कटौती हो सकती है। जिससे निवेशकों के लिए एक दशक बाद अच्छे रिटर्न पाना महज़ एक सपना बन जाएगा। ऐसे में सभी निवेशकों की यही चाह होगी कि उन्हें एक ऐसी भरोसेमंद योजना मिल जाए, जिससे वो अगले एक, दो या तीन दशकों के लिए इसी ब्याज दर पर रिटर्न पा सकें।

निवेशकों की इसी ज़रूरत को समझते हुए रिलायंस म्युचुअल फंड्स लेकर आए हैं ‘’रिलायंस निवेश लक्ष्य’’ योजना, जो हर वर्ग के निवेशकों को अगले 25-30 वर्षों के लिए लॉक-इन ब्याज दरों के हिसाब से रिटर्न देने का दावा करता है यानी आपको अगले 25-30 सालों के लिए मौजूदा ब्याज दर (8 प्रतिशत) के हिसाब से रिटर्न मिल सकता है। इस योजना के तहत निवेश करने वालों को भविष्य में होने वाली ब्याज दरों में कटौती के बावजूद इसी दर पर रिटर्न मिल सकता है। इस योजना की सबसे ख़ास बात यह है कि यह योजना गवर्नमेंट सिक्योरिटीज़ में निवेश करते हुए निवेशकों को बेहतर रिटर्न का भरोसा देती है।

रिलायंस के ‘’निवेश लक्ष्य’’ योजना के कुछ बेहद ही अनूठे प्वाइंट्स ऐसे हैं जो इसे हर वर्ग के लिए ख़ास बनाते हैं :

• इस योजना में आप 25-30 वर्षों के लिए निवेश कर सकते हैं
• इस योजना से आपको अगले 25-30 वर्षों के लिए समान ब्याज दर से रिटर्न
• इस योजना में कोई लॉक-इन पीरियड नहीं है (आप कभी भी राशि निकाल सकते हैं)
• टैक्स बचत में समर्थ (तीन सालों के बाद टैक्स बैनिफिट)
• निरंतर पैसे निकाल पाना संभव

रिलायंस निवेश लक्ष्य योजना अच्छे रिटर्न्स की चाह रखने वाले हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल, अभिभावकों और रिटायरमेंट ले चुके लोगों के लिए उपयुक्त साबित हो सकती है। 

- हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल - अगर बात की जाए हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल (HNI) वर्ग की, तो इस वर्ग के लोग हमेशा से ही अपनी संपत्ति का कुछ हिस्सा निरंतर आय की योजनाओं में लगाते हैं। इस योजना के तहत यह वर्ग अपने पैसों को 25-30 वर्षों के लिए अच्छी ब्याज दरों के साथ संरक्षित कर सकता है। साथ ही गवर्नमेंट सिक्योरिटीज़ में निवेश इस योजना को हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल्स के लिए और भी ज़्यादा भरोसेमंद बना सकता है।

- अभिभावक/ दादा-दादी – अपने बच्चों के लिए निवेश करने जा रहे अभिभावकों या दादा-दादी के लिए ये योजना बेहद ही उपयुक्त साबित हो सकती है। क्योंकि इस योजना में गवर्नमेंट सिक्योरिटीज़ में निवेश किया जाता है इसलिए 25-30 वर्षों के लिए आपको बेहतर रिटर्न मिल सकता है यानी जो अभिभावक आज अपने बच्चों के निवेश कर रहे हैं, उन्हें आज से 25-30 वर्षों के लिए निरंतर मिल सकेंगे अच्छे रिटर्न और उनके बच्चों को मिल सकेगा बेहतर भविष्य का भरोसा।

- रिटायरमेंट ले चुके वरिष्ठ नागरिक – रिटायरमेंट ले चुके लोग गवर्नमेंट सिक्योरिटीज़ में निवेश करने वाली इस योजना के तहत लंबी अवधि तक अच्छी ब्याज दरों के ज़रिये बेहतर रिटर्न पा सकते हैं। जिससे उन्हें मिलता है रिटायरमेंट के बाद एक बेहतर ज़िंदगी जीने का भरोसा।

इस ख़ास योजना का NFO सिर्फ़ 2 जुलाई तक है, 2 जुलाई से पहले आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

By Digpal Singh