नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। भारतीय जीवन बीमा निगम (Life Insurance Corporation of India) नई पॉलिसी लेकर आया है। यह एलआईसी (LIC) की जीवन अक्षय-7 (प्लान नंबर 857) है। यह एक एकल प्रीमियम, नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग और व्यक्तिगत तत्काल एन्युटी स्कीम है। यह 25 अगस्त 2020 से प्रभावी होगी। एकमुश्त राशि के भुगतान पर शेयरधारकों के पास एन्युटी के 10 उपलब्ध विकल्पों में से किसी एक को चुनने का विकल्प होता है। पॉलिसी के आरंभ में एन्युटी की दरों की गारंटी दी जाती है और एन्युटी पाने वाले को उम्र भर एन्युटी का भुगतान किया जाता है। इस प्लान को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से खरीदा जा सकता है।

इस प्लान के लिए न्यूनतम खरीद मूल्य एक लाख रुपये (न्यूनतम वार्षिकी मानदंड के अनुसार) है। पॉलिसी में वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक और मासिक एन्युटी के प्रकार उपलब्ध हैं। न्यूनतम एन्युटी 12,000 रुपये सालाना है। यहां अधिकतम खरीद मूल्य की कोई सीमा नहीं है। साथ ही पांच लाख से अधिक के खरीद मूल्य के लिए एन्युटी दर में वृद्धि के रूप में इंसेंटिव उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें: Gold Price Today सोने-चांदी की वायदा कीमतों में आई तेजी, जानिए क्या हैं भाव

यह प्लान खरीद मूल्य की वापसी के साथ जीवन के लिए तत्काल एन्युटी के विकल्प को छोड़कर 30 वर्ष से 85 वर्ष तक की आयु के लिए उपलब्ध है। पहले वाली स्थिति में यह सौ साल तक के लिए है। दिव्यांगजन (विकलांग आश्रित) को फायदा पहुंचाने के लिए भी योजना खरीदी जा सकती है।

इस योजना में, किन्हीं दो वंशजों, एक ही परिवार के वंशजों (दादा-दादी, माता-पिता, बच्चे, नाती-पोते), पति-पत्नी या भाई-बहन के बीच ज्वाइंट लाइफ एन्युटी ली जा सकती है। पॉलिसी जारी होने के तीन महीने बाद या फ्री-लुक अवधि की समाप्ति के बाद (जो भी बाद में) कभी भी लोन सुविधा उपलब्ध होगी।  

Edited By: Pawan Jayaswal