नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने का सबसे अच्छा समय अप्रैल का महीना ही माना जाता है।  पर्सनल फाइनेंस एक्सपर्ट  भी कुछ ऐसी ही राय देते हैं। अधिकांश बीमाधारकों को यह शिकायत रहती है कि उन्हें उनकी जरूरत को पूरा करने वाली पॉलिसी नहीं मिल पाई क्योंकि पॉलिसी की नियम व शर्तें उनकी समझ से बाहर की होती हैं। हम अपनी इस खबर में आपको बता रहे हैं कि साल के किस महीने में आपके लिए टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना ज्यादा बेहतर रहता है। 

बीमाधारक वैसे तो किसी भी महीने बीमा पॉलिसी की खरीद कर सकते हैं, लेकिन अप्रैल का महीना सबसे अच्छा माना जाता है। यह नए वित्त वर्ष का पहला महीना होता है और यह अपने वित्तीय योजनाओं का पुनर्मूल्यांकन करने का सही समय भी होता है। इस महीने अधिकांश कर्मचारियों को उनका एनुअल बोनस भी मिल जाता है। अगर आपके पास पहले से टर्म इंश्योरेंस है तो आपको सम एश्योर्ड का पुनर्मूल्यांकन कर लेना चाहिए।

अप्रैल में ही क्यों खरीदें पॉलिसी?

आमतौर पर भारतीय लोग जीवन बीमा की खरीद वित्त वर्ष के अंत में करते हैं। जीवन बीमाकर्ताओं का आधे से ज्यादा बिजनेस वित्त वर्ष के आखिरी के तीन महीनों में होता है। इसमें भी विशेषरूप से मार्च महीने में। इससे जुड़े टैक्स बेनिफिट के चलते कई बार बीमाकर्ता खरीदार की जरुरतों को नजरअंदाज कर देता है।

अप्रैल का महीना एक तरह से लीन पीरियड होता है। इस दौरान बीमाकर्ता आपके सभी सवालों का धैर्यपूर्वक जवाब देते हैं क्योंकि इस दौरान बीमा कारोबार कम होता है। यहां तक कि इस दौरान आपके पास भी पर्याप्त समय और नकदी होती है जिसके चलते आप समझदारी से उपलब्ध विकल्पों का चयन कर खरीद सकते हैं।

कैसे खरीदें सही प्रोडक्ट-

वित्तीय साक्षरता के चलते लोगों के बीच टर्म लाइफ इंश्योरेंस की लोकप्रियता बढ़ रही है। किसी भी प्रोडक्ट की खरीद से पहले उपलब्ध विकल्पों को ऑनलाइन जरूर जांच लें। लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी की राशि अपने भविष्य के लक्ष्यों और मौजूदा देनदारी को ध्यान में रखकर तय करनी चाहिए। अगर कोई परिवार अपना मौजूदा खर्चों का स्तर बरकरार रखना चाहता है तो बीमा राशि सालाना आय का 10 गुना होनी चाहिए। हालांकि, इसमें महंगाई और जीवन में होने वाले बड़े खर्चें (बच्चे की पढ़ाई या शादी) शामिल हैं। अगर आपके पास होम लोन जैसा लोन है तो एक्स्ट्रा सम एश्योर्ड खरीदना न भूलें। जरूरत के समय में परिवार को लोन का भुगतान करने के बाद सम एश्योर्ड के जरिए पर्याप्त राशि मिल जाएगी।

क्रिटिकल इल्नेस कवर को टर्म लाइफ इंश्योरेंस के साथ एडिशनल बेनिफिट के रूप में खरीदना चाहिए क्योंकि पॉलिसी के टेन्योर के दौरान प्रीमियम राशि एक जैसी ही रहती है। आप एक्सीडेंट बेनिफिट राइडर को भी अपने लिए खरीद सकते हैं।

By Surbhi Jain