नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। साल 2021 में दुनिया का सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट जापान का है। साल 2021 के लिए दुनिया के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट्स की रैंकिग जारी हो गई है। हेनले और पार्टनर्स (Henley and Partners) की पासपोर्ट इंडेक्स ग्लोबल रैंकिंग के अनुसार, इस साल जापान का पासपोर्ट दुनिया का सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट है। जापान के बाद दूसरा सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट सिंगापुर का है। अमेरिका का इस रैंकिंग में सातवां स्थान है। वहीं, भारत 85 वें स्थान पर है। पड़ोसी देश पाकिस्तान की बात करें, तो वहां का पासपोर्ट रैंकिंग में नीचे से चौथे स्थान पर है।

विदेश जाने के लिए पासपोर्ट सबसे आवश्यक चीज है। किस देश का पासपोर्ट कितना शक्तिशाली है, यह इस बात पर निर्भर करता है कि वह पासपोर्टधारक बिना वीजा लिये कितने देशों की यात्रा कर सकता है। इस मामले में जापान अव्वल है। जापान के पासपोर्ट का 191 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है। अमेरिका के पासपोर्ट को 185 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है। इस मामले में पड़ोसी देश चीन काफी पीछे है। उसके पासपोर्ट का रैंकिंग में 70 वां स्थान है।

शक्तिशाली पासपोर्ट की इस रैंकिंग में तीसरे स्थान पर दक्षिण कोरिया और जर्मनी हैं। इन दोनों देशों के पासपोर्ट को 189 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है। चौथे स्थान पर हैं इटली, फिनलैंड, स्पेन और लक्जमबर्ग के पासपोर्ट, इनको 188 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है। रैंकिंग में पांचवें स्थान पर डेनमार्क और ऑस्ट्रिया है। यहां के पासपोर्ट को 187 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है।

रैंकिंग में भारत 85 वें स्थान पर है। भारत के पासपोर्ट पर 58 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है। पड़ोसी देशों की बात करें, तो चीन के पासपोर्ट का 75 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है और पाकिस्तान का पासपोर्ट जो 107 वें स्थान पर है, उसका 32 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021