नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। दुनिया के मशहूर कारोबारियों में शुमार वॉरने बफे (Warren Buffett) ने बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन (Bill and Melinda Gates Foundation) के ट्रस्टी के पद से इस्तीफा दे दिया है। फाउंडेशन के संस्थापकों के बीच तलाक के चलते चैरिटी में आ रहे व्यवधानों के कारण वॉरेन बफे ने यह इस्तीफा दिया है। 90 साल के बफे ने बुधवार को एक बयान जारी कर अपने इस्तीफे की घोषणा की है।

उन्होंने कहा, 'मेरे लक्ष्‍य फाउंडेशन के लक्ष्‍य से 100 फीसद सिंक हैं।' उन्होंने कहा कि वे अपने बार्कशायर हेथवे के सभी शेयर चैरिटी के लिए देने की आधी राह तक पहुंच गए हैं। वॉरेन बफे पिछले 15 साल में अपनी 27 बिलियन डॉलर से अधिक रकम चैरिटी के लिए दे चुके हैं।

बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के तीन बोर्ड मेंबर्स में बफे शामिल थे। बोर्ड में उनके अलावा बिल और मेलिंडा भी शामिल थे। फाउंडेशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क सुजमैन ने पिछले महीने कर्मचारियों से कहा था कि वे "फाउंडेशन की दीर्घकालिक स्थिरता" को मजबूत करने के लिए बातचीत कर रहे हैं।

बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के सह-संस्थापक बिल गेट्स (Bill Gates) और उनकी पत्नी मेलिंडा गेट्स (Melinda Gates) ने पिछले माह ही 27 साल के वैवाहिक जीवन के बाद अलग होने का फैसला लिया था।

बिल गेट्स ने पिछले महीने मेलिंडा से तलाक लेने की घोषणा करते हुए कहा था, 'हमें नहीं लगता है कि अब हम अपनी जिंदगी के अलगे पड़ाव में पति-पत्नी के रूप में साथ आगे बढ़ सकते हैं।' हालांकि, दोनों ने यह कहा था कि वे बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन में साथ काम करते रहेंगे।

(यह खबर ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट पर आधारित है।)

Edited By: Pawan Jayaswal