नई दिल्ली, पीटीआइ। संकट से गुजर रही सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया की खरीद में कई कंपनियां रुचि दिखा रही हैं। निजी विमानन कंपनी विस्तारा भी इस सौदे के लिए गंभीर नजर आ रही है। कंपनी ने कहा है कि वह एयर इंडिया का विश्लेषण कर रही है। टाटा एसआइए के चेयरमैन भास्कर भट ने बताया कि फिलहाल एयर इंडिया का मूल्यांकन किया जा रहा है। इसके बाद बोली में भाग लेने पर फैसला किया जाएगा।

भट ने बोली के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि भला कौन सी कंपनी एयर इंडिया में रुचि नहीं दिखाएगी। टाटा और विस्तारा में से किसी एक की रुचि के सवाल को नकारते हुए उन्होंने कहा कि विस्तार दोनों कंपनियों का साझा उपक्रम है। गौरतलब है कि सरकार ने इसी वर्ष जनवरी में एयर इंडिया में 100 परसेंट हिस्सेदारी बेचने की कवायद शुरू की थी। इसके साथ ही कंपनी के एयरपोर्ट कारोबार में 50 परसेंट हिस्सेदारी बेचने की तैयारी है।

एयर इंडिया की खरीद में रुचि दिखाने वाली कंपनियां 17 मार्च तक अपनी बोली जमा कर सकती हैं। इसके लिए उनकी नेटवर्थ कम से कम 3,500 करोड़ रुपये होनी चाहिए। सरकार को अगले वित्त वर्ष की पहली छमाही तक इसकी बिक्री प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है।

नई दिल्ली में सोमवार को विस्तारा बोइंग 787-9 ड्रीमलाइनर की लांचिंग के दौरान केबिन क्रू से बात करते टाटा एसआइए एयरलांइस लि. के चेयरमैन भास्कर भट (बीच में)। निजी विमानन कंपनी विस्तारा, टाटा और सिंगापुर एयरलाइंस का संयुक्त उपक्रम है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस