नई दिल्ली। टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री को निदेशक मंडल से बाहर करने के लिए कंपनी ने 6 फरवरी को शेयरहोल्डर्स की बैठक (EGM) बुलाई है। टाटा संस 103 अरब डॉलर के टाटा ग्रुप की होल्डिंग कंपनी है। गौरतलब है कि बीते 24 अक्टूबर को टाटा संस के चेयरमैन पद से हटाया गया था।

मिस्त्री को हटाए जाने के बाद टाटा संस ने अपनी ऑपरेटिंग कंपनियों जैसे टाटा मोटर्स और टीसीएस जैसी कंपनियों के बोर्ड से भी उनको बाहर करने की प्रक्रिया शुरू की थी। इसके साथ ही मिस्त्री ने टाटा ग्रुप की छह कंपनियों के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया था लेकिन उन्होंने टाटा संस और इसके अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा के खिलाफ नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल में मामला दर्ज किया था।

टाटा संस ने मिस्त्री से मांगे सभी गोपनीय दस्तावेज:

टाटा संस की कई कंपनियों के चेयरमैन पद से हटाए गए साइरस मिस्त्री पर गोपनीयता नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए ग्रुप ने दिसंबर महीने में मिस्त्री को एक नोटिस भेजा गया जिसमे उनसे सभी गोपनीय दस्तावेज लौटाने को कहा गया था। इतना ही नहीं कंपनी ने मिस्त्री से 48 घंटे के भीतर इस बारे में हलफनामा देने को भी कहा कि वह भविष्य में दोबारा ऐसी सूचनाओं का खुलासा नहीं करेंगे। इसके ठीक दो दिन पहले भी मिस्त्री को एक नोटिस भेजा गया था। दूसरे नोटिस में टाटा सन्स ने कहा कि मिस्त्री के पास गोपनीय तथा वाणिज्यिक दृष्टि से संवेदनशील सूचनाएं और दस्तावेज हैं। टाटा सन्स ने उनसे इन सभी गोपनीय दस्तावेजों को लौटाने को कहा और साथ ही इनकी प्रतियां अपने पास नहीं रखने को कहा। मिस्त्री से इस तरह की सूचनाओं का खुलासा करने से बचने को कहा गया था।

Posted By: Praveen Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस