नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। अब हवाई सफर के दौरान यात्री फ्लाइट में इंटरनेट का इस्तेमाल कर पाएंगे। हालांकि, सुरक्षा कारणों से उन्हें कॉल करने की इजाजत नहीं होगी। एक मीडिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई है।

रिपोर्ट के मुताबिक फ्लाइट्स में मोबाइल फोन के इस्तेमाल को लेकर फाइल नोटिफिकेशन कानून मंत्रालय को भेजा गया है। अप्रूवल के बाद इसे लागू कर दिया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि फ्लाइट्स में वॉइस कॉल पर पाबंदी रहेगी। क्योंकि भारत में पहले मोबाइल वॉइस गेटवे की समस्या है।

जानकारी के मुताबिक कैबिनेट सचिव के नेतृत्व में सचिवों की कमिटी ने सुरक्षा मुद्दों को ध्यान में रखते हुए बताया है कि वॉइस सर्विसेज़ की सुविधा के लिए सिर्फ भारतीय या लोकल गेटवेज़ और सेटेलाइट्स का इस्तेमाल हो।

बता दें कि दूरसंचार मंत्रालय विमानन सचिव और विमानन कंपनियों और दूरसंचार ऑपरेटरों के प्रतिनिधियों के साथ इस मसले पर पहले ही चर्चा कर चुका है। भारत में गेटवे के लिए जमीन के साथ-साथ अंतरिक्ष में भी निवेश करना होगा। इसके अलावा एयरक्राफ्ट के अपग्रेडेशन और उनके द्वारा इंटरनेट सर्विस उपलब्ध कराने की क्षमता भी शामिल है।

गौरतलब है कि टेलिकॉम कमिशन की ओर से फ्लाइट में वॉइस कॉल के फैसले को 1 मई को स्वीकृति मिल गई थी, जिसके बाद सरकार का मानना था कि अगस्त तक फ्लाइट में मोबाइल फोन के इस्तेमाल व वॉइस कॉल को लागू कर दिया जाएगा।  

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप