नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। घरेलू शेयर बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट देखने को मिली। सुबह 09:37 बजे BSE Sensex पर 68.56 अंक यानी 0.12 फीसद की गिरावट के साथ 59,230.76 अंक के स्तर पर कारोबार हो रहा था। इसी तरह NSE Nifty पर 16.25 अंक यानी 0.09 फीसद की गिरावट के साथ 17,675 अंक के स्तर पर कारोबार हो रहा था। निफ्टी पर CIPLA, Bajaj Finserv, Sun Pharma, Tech Mahindra, Dr Reddy's के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिल रही थी। दूसरी ओर, ONGC, IOC, Maruti, Bharti Airtel और Powergrid के शेयरों में बढ़त के साथ ट्रेडिंग हो रही थी।

सेंसेक्स पर ये शेयर टूटे

BSE Sensex पर SUN Pharma, Bajaj Finserv, Dr. Reddy's, Tech Mahindra, HCL Tech, Infosys, ICICI Bank, TCS, Titan, Kotak Mahindra Bank, Bajaj Finance, SBI, Tata Steel, M&M, ITC, L&T, Ultratech Cement और HDFC Bank के शेयरों में लाल निशान के साथ ट्रेडिंग हो रही थी।

दूसरी ओर, पावरग्रिड, भारती एयरटेल, मारुति, एशियन पेंट्स, एनटीपीसी, हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड, बजाज ऑटो, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एक्सिस बैंक और नेस्ले इंडिया के शेयरों में तेजी देखने को मिल रही थी।

इससे पिछले सत्र में सेंसेक्स 533.74 अंक यानी 0.91 फीसद के उछाल के साथ 59,299.32 अंक के स्तर पर बंद हुआ था। इसी तरह NSE Nifty 159.20 अंक यानी 0.91 फीसद की तेजी के साथ 17,691.25 अंक के स्तर पर बंद हुआ था।

स्टॉक एक्सचेंज के डेटा के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (FIIs) ने सोमवार को 860.50 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे और शुद्ध आधार पर लिवाल बने रहे।

रिलायंस सिक्योरिटीज में हेड (सिक्योरिटीज) बिनोद मोदी ने कहा कि वर्तमान में भारतीय इक्विटी में सकारात्मक रुख देखने को नहीं मिल रहा है। तेल की कीमतों में भारी वृद्धि के साथ महंगाई दर के बढ़ने की आशंका से सरकार का राजकोषीय गणित गड़बड़ हो सकता है। इस आशंका ने निवेशकों की धारणा को प्रभावित किया है।

उन्होंने कहा कि तेल की बढ़ती कीमतों से महंगाई दर पर बढ़ते दबाव के चलते अमेरिका के तीनों प्रमुख सूचकांक रात के सत्र में 1-2 फीसद की गिरावट के साथ बंद हुए थे।

अन्य एशियाई बाजारों की बात की जाए तो सिओल और टोक्यो में भारी गिरावट देखने को मिल रही थी। वहीं हांगकांग में दोपहर के सत्र में शेयर बाजार में तेजी देखने को मिल रही थी। शंघाई में छुट्टी की वजह से शेयर बाजार बंद रहे।

Edited By: Ankit Kumar