नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। आज हर किसी की निगाहें रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की द्वैमासिक मौद्रिक नीति समिति की बैठक पर टिकी हुईं हैं। इस बैठक के नतीजे आज 11 बजकर 45 मिनट पर सामने आ जाएंगे। हालांकि इस बैठक में रेट कट की संभावनाएं कम नजर आ रही हैं लेकिन माना जा रहा है कि इस बैठक में केंद्रीय बैंक अपने रुख को बदलकर न्यूट्रल कर सकता है। गौरतलब है कि यह नए आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की पहली समीक्षा बैठक है।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में यह बैठक मंगलवार को शुरू हो गई थी और इस पर आज फैसला होना है। तीन दिवसीय इस बैठक में अगर आरबीआई नीतिगत ब्याज दरों में कटौती का फैसला लेता है तो लोन लेना सस्ता हो जाएगा।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि केंद्रीय बैंक ने बीती तीन द्वैमासिक मौद्रिक समीक्षा बैठक से ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। हालांकि उससे पहले उसने दो बार रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट का इजाफा किया था। वर्तमान में रेपो रेट 6.50 फीसद है। आरबीआई अगर ब्याज दरों में कटौती का फैसला करता है तो बैंकों से लोन लेना सस्ता हो जाएगा।

गौरतलब है कि रेपो रेट वह दर होती है जिस पर आरबीआई बैंकों को कर्ज देता है। यानी जब बैंकों को आरबीआई से सस्ता कर्ज मिलेगा तो जाहिर तौर पर बैंक भी ग्राहकों को सस्ता लोन दे सकते हैं।

Edited By: Praveen Dwivedi