नई दिल्‍ली (मनीश कुमार मिश्र)। नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में दोबार केंद्र में सरकार बनने के बाद शेयर बाजार में अच्‍छी तेजी की उम्‍मीद की जा रही है। सिर्फ 10 दिन यानी 13 मई से 23 मई के दौरान सेंसेक्‍स में 3,000 से अधिक अंकों का उछाल दर्ज किया गया। अब विश्‍लेषकों का अनुमान है कि सरकार के सुधारवादी कदमों से बाजार एक साल में एक नई ऊंचाई छुएगा और सेंसेक्‍स जहां 45,000 का स्‍तर पार कर सकता है वहीं निफ्टी भी 13,000 क्रॉस कर सकता है। अगर आप भी शेयर बाजार की इस तेजी से लाभ कमाना चाहते हैं तो आज हम आपको बताएंगे उन शेयरों के बार में जो आपको औसत 50 फीसद तक का रिटर्न एक साल में दे सकते हैं।

सीएनआई रिसर्च के चेयरमैन किशोर ओस्‍तवाल कहते हैं कि मोदी सरकार गैर-बैंकिंग वित्‍तीय कंपनियों (NBFC), बैंकिंग सेक्‍टर, केमिकल सेक्‍टर आदि जैसे सेक्‍टर्स की मजबूती के लिए कदम जरूर उठाएगी। ऐसे में इन सेक्‍टर्स के ऐसे शेयर जो आकर्षक वैल्‍यूएशन पर अभी बाजार में उपलब्‍ध हैं उन पर दांव लगाया जा सकता है। 

ओस्‍तवाल ने कहा कि एनबीएफसी सेक्‍टर में उज्‍जीवन फाइनेंस, बजाज फाइनेंस आकर्षक मूल्‍य पर उपलब्‍ध हैं। वहीं केमिकल सेक्‍टर में विपुल ऑर्गेनिक और सुदर्शन केमिकल अच्‍छी पिक हो सकती है। पीएसयू बैंकों में एसबीआई और बैंक ऑफ बड़ौदा का प्रदर्शन बेहतर रहेगा। उन्‍होंने कहा कि अगर कोई प्राइवेट बैंक में पैसे निवेश करना चाहता है तो कर्नाटका बैंक को चुन सकता है।

ओस्‍तवाल ने कहा कि इनमें से कुछ कंपनियों के शेयर 200% तक का मुनाफा एक साल में दे सकते हैं। हालांकि, अगर औसत रिटर्न भी मानकर चलें तो ये शेयर्स 50 फीसद का रिटर्न देंगे। 

वहीं, एचडीएफसी सिक्‍योरिटीज के कैपिटल मार्केट स्‍ट्रेटजी और प्राइवेट क्‍लाइंट ग्रुप के प्रमुख वी. के. शर्मा की सलाह है कि लॉन्‍ग टर्म के लिहाज से निवेशकों को शेयरों में निवेश करना चाहिए। उनके अनुसार, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एल एंड टी, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज और अल्‍ट्राटेक में निवेश करना फायदे का सौदा हो सकता है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manish Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप