नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (IAMAI) और इसके सहयोगी संगठन पेमेंट्स काउंसिल ऑफ इंडिया (PCI) व फिनटेक कन्वर्जेंस काउंसिल (FCC) संयुक्त रूप से वर्चुअल ग्लोबल फिनटेक फेस्टिवल का आयोजन कर रहे हैं। यह दो दिवसीय फेस्टिवल 22 व 23 जुलाई 2020 को आयोजित होगा। आर्थिक मामलों का विभाग (DEA), वित्त मंत्रालय और भारत सरकार इस आयोजन के प्रेजेंटिंग पार्टनर हैं। यह आयोजन वर्ल्ड बैंक और संयुक्त राष्ट्र पूंजी विकास कोष (UNCDF) द्वारा भी समर्थित है।

ग्लोबल फिनटेक फेस्टिवल का मुख्य उद्देश्य कोविड-19 के बाद के विश्व में वित्तीय प्रौद्योगिकियों के मामले में भारत के नेतृत्व को पुनर्स्थापिक करना है। एक बड़े वैश्विक कार्यक्रम को वर्चुअली आयोजित करना भी भारत के डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन में एक मील का पत्थर साबित होगा।

इस दो दिवसीय वर्चुअल फेस्ट की थीम कोविड-19 के बाद के फिनटेक पर आधारित है। इस फेस्ट का आयोजन 22 और 23 जुलाई 2020 को होना है। इस फेस्टिवल में डिजिटल पेमेंट्स, डिजिटल लेंडिंग, डिजिटल इंश्योरेंस, डेटा मैनेजमेंट, वित्तीय समावेशन, डिजिटल परिवर्तन, क्रिप्टो और ब्लॉकचेन आदि विषयों पर भी चर्चा होगी। इस फेस्टिवल में फिनटेक के मुख्य स्तंभों को मजबूत करने को लेकर भी चर्चा होगी, ताकि इस सेक्टर को आगे ले जाया जा सके।

इस फेस्टिवल में 20 से अधिक देशों के 100 से अधिक वक्ताओं के साथ 5,000 से अधिक प्रतिनिधियों के भाग लेने की उम्मीद है। फेस्टिवल में रेगूलेटर्स, प्रमुख वित्तीय संस्थाओं, औद्योगिक संगठनों और कॉरपोरेट्स से जुड़े लोगों के साथ ही स्टूडेंट्स भी भाग लेगें।

फिनटेक कन्वर्जेंस काउंसिल के अध्यक्ष नवीन सूर्या ने कहा, 'सभी महाद्वीपों में बीएफएसआई/फिनटेक सेक्टर में कोविड-19 महामारी के कारण आई चुनौतियों, अवसरों और भविष्य के दृष्टिकोण के निहितार्थ को समझना महत्वपूर्ण है। ग्लोबल फिनटेक फेस्टिवल एक ऐसा मंच होगा जहां सभी हितधारक अपना ज्ञान साझा कर सकते हैं।'

फिनटेक कन्वर्जेंस काउंसिल के सह-अध्यक्ष श्रीनिवास जैन ने कहा, 'ग्लोबल फिनटेक फेस्टिवल में कंपनियों के लिए उनके नवाचारों को एक समर्पित आभासी जगह पर दिखाने का मौका भी है।'

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस