नई दिल्ली, पीटीआई। फोर्ब्स की दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित कंपनियों की लिस्ट में इन्फोसिस, टीसीएस और एचडीएफसी सहित 17 कंपनियां शामिल हैं। आईटी सेक्टर की दिग्गज कंपनी इन्फोसिस ने तो लंबी छलांग लगाई है और इस सूची में तीसरे स्थान पर पहुंच गई है। उससे आगे ग्लोबल पेमेंट टेक्नोलॉजी कंपनी वीजा और इटली की कार निर्माता फेरारी ही है। इन्फोसिस पिछले साल इस लिस्ट में 31वें पायदान पर थी।

फोर्ब्स ने कहा है कि 'Infosys' इस लिस्ट में एशियाई कंपनियों में सबसे आगे है। इन्फोसिस के बाद नेटफ्लिक्स का स्थान आता है जो सूची में चौथे स्थान पर है। इसके बाद पे पाल (5), माइक्रोसॉफ्ट (6), वाल्ट डिज्नी (7), टोयोटा मोटर (8), मास्टर कार्ड (9), कोस्टको होलसेल (10) का स्थान आता है। 

भारतीय कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (22) और टाटा मोटर्स (31) शीर्ष 50 कंपनियों में शुमार हैं। वहीं, वहीं, टाटा स्टील (105), लार्सन एंड टुब्रो (115), महिंद्रा एंड महिंद्रा (117), एचडीएफसी (135), बजाज फिनजर्व (143), पीरामल एंटरप्राइजेज (149), स्टील अथॉरिटी आफ इंडिया (153), एचसीएल टेक्नोलॉजीज (155), हिंडाल्को इंडस्ट्रीज (157), विप्रो (168), एचडीएफसी बैंक (204), सनफार्मा इंडस्ट्रीज (217), जनरल इंश्योरेंस कॉरपोरेशन आफ इंडिया (224), आईटीसी (231) और एशियन पेंट्स (248)। 

Forbes की दुनिया की सबसे सम्मानित 250 कंपनियों की इस लिस्ट में अमेरिका की 59 कंपनियां शामिल हैं। इसके बाद जापान, चीन और भारत का स्थान आता है। कुल मिलाकर इन तीन देशों की 82 कंपनियां इस सूची में शामिल हैं। पिछले साल यह आंकड़ा 63 कंपनियों का था।

फोर्ब्स ने Statista के साथ मिलकर दुनिया की 2,000 सबसे बड़ी कंपनियों में से इन 250 सबसे प्रतिष्ठित कंपनियों का चुनाव किया है। विश्वसनीयता, सामाजिक आचरण प्रोडक्ट एवं सर्विसेज के आधार पर ये लिस्ट तैयार की गयी है। स्टैटिस्टा ने 50 से अधिक कंपनियों के 15,000 लोगों से बातचीत के बाद यह सूची तैयार की है।

 

Posted By: Ankit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप