मुंबई, पीटीआइ। कोरोना वायरस संकट के बीच देश में फरवरी से मई के बीच वर्क फ्रॉम होम या रिमोट वर्किंग की सहूलियत वाली नौकरियों के सर्च में 377 फीसद की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। एक रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है।नौकरी से जुड़ी वेबसाइट Indeed की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि देशभर में नौकरी ढूंढने वाले लोग रिमोट वर्किंग की सुविधा वाली नौकरी में जबरदस्त दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि 'remote'और 'work from home' जैसे कीवर्ड्स के साथ सर्च में बढ़ोत्तरी हुई है। Indeed की रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में उसके प्लेटफॉर्म पर रिमोट वर्क के साथ सर्च में 377 फीसद से अधिक की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। 

(यह भी पढेंः Term Insurance लेना है तो मत करिए देरी, मृत्यु दर बढ़ने की आशंका से इतने महंगे हो सकते हैं टर्म प्लान) 

इसी तरह, रिमोट वर्क और वर्क फ्रॉम होम से जुड़े जॉब पोस्ट में भी 168 फीसद की भारी वृद्धि देखने को मिली है।

Indeed India के प्रबंध निदेशक शशि कुमार ने कहा, ''कोविड-19 ने हमें काम करने के अपने तरीके को बदलने पर मजबूर कर दिया है। इस वजह से रिमोट वर्किंग में बहुत अधिक बढ़ोत्तरी हुई है और इसके जारी रहने की संभावना है।''

कुमार ने कहा कि उद्योगों को आने वाले समय के लिए कार्यबल से जुड़ी रणनीति के बारे में एकसाथ मिलकर सोचना होगा। इसके साथ ही ऐसे कर्मचारियों को नए तरह से कुशल बनाना होगा, जिनके रोजगार जाने की आशंका है।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से बहुत लोगों के प्लान फिलहाल स्थगित हो गए हैं लेकिन इसी बीच ये हमें खुद को तैयार करने का मौका देता है।

(यह भी पढ़ेंः FD पर ये बैंक अब भी दे रहे 7.35% तक ब्याज, हाथ से मत जाने दें बढ़िया रिटर्न पाने का ये मौका)

Indeed के पूर्व के कुछ अध्ययनों में ऐसा पाया गया था कि नौकरी ढूंढने वालों में 83 फीसद लोग रिमोट वर्क पॉलिसी को महत्वपूर्ण पहलू मानते हैं। यही नहीं 53 फीसद लोग रिमोट वर्किंग का ऑप्शन मिलने पर कम सैलरी लेने के लिए भी तैयार दिखे।

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस