नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। अक्टूबर महीने के वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) का आंकड़ा आ गया है। बीते महीने जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ से ज्यादा रहा है। गुरुवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट कर बताया कि अक्टूबर महीन में जीएसटी संग्रह लोअर टैक्स रेट, कम चोरी की वजह से 1 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया है। सितंबर में यह कलेक्शन 94,442 करोड़ रुपए था। 

जेटली ने ट्वीट के जरिए बताया, 'अक्टूबर महीने (2018) में जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ के आंकड़े को पार गया है। जीएसटी के इस सफलता के पीछे देशभर में एक टैक्स की व्यवस्था और दूसरे टैक्स सुधार और टैक्स अधिकारीयों का शून्य हस्तक्षेप है। इससे पहले अप्रैल में जीएसटी संग्रह का आंकड़ा एक लाख के पार गया था।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक, अक्टूबर 2018 के दौरान कुल जीएसटी रेवेन्यू कलेक्शन 100,710 करोड़ रुपए रहा है, जिसमें सीजीएसटी 16,464 करोड़ रुपए, एसजीएसटी 22,826 करोड़ रुपए, आईजीएसटी 53,419 करोड़ रुपए, सेस 8,000 करोड़ रुपए शामिल है।

 


अप्रैल में जीएसटी कलेक्शन
अप्रैल में 1.03 लाख करोड़ रुपए का जीएसटी संग्रहण रहा। वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान कुल जीएसटी कलेक्शन 7.41 लाख करोड़ रुपए रहा था। गौरतलब है कि वस्तु एवं सेवा कर को बीते साल 1 जुलाई को देशभर में लागू कर दिया गया था। 

अप्रैल 2018 के दौरान कुल जीएसटी रेवेन्यू कलेक्शन जो कि 1,03,458 करोड़ रुपए रहा था उसमें सीजीएसटी 18,652 करोड़ रुपए, एसजीएसटी 25,704 करोड़ रुपए, आईजीएसटी 50,548 करोड़ रुपए (आयात से एकत्रित 21,246 करोड़ रुपए) और सेस के जरिए 8,554 करोड़ रुपए (आयात से मिले 702 करोड़ रुपए) रहा।

Posted By: Nitesh