नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। राजधानी में दिल्ली पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (डीपीडीए) ने केजरीवाल सरकार की ओर से पेट्रोल और डीजल पर वैट कटौती नहीं करने पर 22 अक्टूबर को करीब 400 पेट्रोल पंप को बंद रखने की घोषणा की है।

डीपीडीए ने एक बयान जारी कहा, 'दिल्ली के लगभग 400 पेट्रोल पंप जिनमें सीएनजी पंप भी शामिल हैं उन्हें 22 अक्टूबर को सुबह 6 बजे से 23 अक्टूबर को सुबह 5 बजे तक बंद रखने का फैसला किया गया है।

बयान में कहा गया कि 4 अक्टूबर को केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल में 2.50 रुपये की कटौती की और बाकी के राज्यों से इसमें सब्सिडी देने को कहा, कई राज्यों ने इसके बाद वैट में कटौती की लेकिन दिल्ली सरकार ने ऐसा नहीं किया ये विरोध इसी को लेकर है।

एसोसिएशन ने कहा कि हरियाणा और उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय राजधानी की सीमा से लगे हैं उन्होंने भी वैट कम कर दिया। लेकिन दिल्ली सरकार ने पेट्रोल और डीजल दोनों पर वैट कम करने से इंकार कर दिया है।

दिल्ली की तुलना में उत्तर प्रदेश और हरियाणा में पेट्रोल 2.59 रुपये और 1.95 रुपये प्रति लीटर सस्ता है। इन दो राज्यों में डीजल 2.02 रुपये और 1.72 रुपये प्रति लीटर सस्ता मिल रहा है।

एसोसिएशन ने बयान में कहा दिल्ली में ज्यादा कीमत और यूपी और हरियाणा में कम कीमतों के चलते ग्राहक दिल्ली में पेट्रोल पंप पर कम आ रहे हैं जिससे बिक्री में भारी गिरावट आई है।

गौरतलब है कि 4 अक्टूबर को केंद्र सरकार ने उत्पाद शुल्क में कमी करके पेट्रोल और डीजल की कीमत में 2.50 रुपये की कटौती की थी, इसके बाद राज्य में चलने वाले तेल कंपनियों को सब्सिडी देने के लिए कहा था।

 

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप