नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अगर आप क्रेडिट कार्ड (Credit Card) इस्तेमाल करते हैं तो आपको कम से कम उन चार बातों का जरूर ख्याल रखना चाहिए, जो हम आगे बताने वाले हैं। यह बातें आपके क्रेडिट कार्ड के बेहतर इस्तेमाल करने से जुड़ी हैं। अगर इनका ख्याल नहीं रखा गया तो यह गलती आपके सिबिल स्कोर पर बुरा प्रभाव डालेगी। ऑप्टिमा मनी मैनेजर प्राइवेट लिमिटेड के CEO पंकज मठपाल ने क्रेडिट कार्ड से जुड़ी यह जानकारियां दी हैं। चलिए, आपको भी बताते हैं कि उन्होंने क्या-क्या जानाकरी दी।

ज्यादा क्रेडिट कार्ड रखने से बचें

पंकज मठपाल ने कहा कि 'ज्यादा क्रेडिट कार्ड रखने से बचना चाहिए। दरअसल, आजकल कई को-ब्रॉन्डेड कार्ड होते हैं। ट्रैवल कार्ड से लेकर पैट्रोल कार्ड और शॉपिंग कार्ड तक, कई अलग-अलग कार्ड हैं, जिनमें रिवॉर्ड पॉइंट्स होते हैं और इन्हीं के चक्कर में लोग कई कार्ड्स ले लेते हैं। लेकिन, फिर इन्हें मैनेज करने में परेशानी होती है। इसीलिए, ज्यादा कार्ड रखने से बचना चाहिए।'

समय पर भुगतान करना न भूलें

उन्होंने कहा कि क्रेडिट कार्ड का हमेशा समय पर भूगतान करें। अगर पूरा भुगतान नहीं कर पा रहे हैं तो कम से कम मिनिमम आउटस्टैंडिंग जरूर भर दें। क्योंकि, समय पर भुगतान नहीं करने पर लेट पेमेंट चार्ज के साथ ही आपको आउटस्टैंडिंग पर ब्याज भी देना पड़ता है। यह ब्याज दर 50% सालाना तक हो सकती है। यह आपका सिबिल स्कोर भी खराब करता है।

फुल क्रेडिट लिमिट खर्च करने से बचें

पंकज मठपाल के अनुसार, व्यक्ति को अपने क्रेडिट कार्ड की कभी पूरी लिमिट खर्च नहीं करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि क्रेडिट कार्ड की लिमिट को पूरा इस्तेमाल करने से बचें। अगर आप पूरी क्रेडिट लिमिट खर्च करते हैं तो आपका क्रेडिट स्कोर खराब हो जाएगा। उन्होंने उदाहरण के तौर पर कहा कि अगर आपके पास एक-एक लाख रुपये की क्रेडिट लिमिट वाले 3 कार्ड हैं, तो तीनों से थोड़ा-थोड़ा पैसा खर्च करें। एक ही को पूरा इस्तेमाल न करें।

ATM से कैश कभी न निकालें

उन्होंने कहा कि कभी भी क्रेडिट कार्ड से कैश नहीं निकालना चाहिए। यह सही नहीं है। उन्होंने कहा कि क्रेडिट कार्ड से निकाले गए कैश पर क्रेडिट पीरियड नहीं मिलता है। इस पर कैश निकालने के दिन से ही ब्याज लगना शुरू हो जाता है। इसीलिए, जहां तक हो सके कैश कभी न निकालें।

Edited By: Lakshya Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट