नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। एसबीआई (SBI) के ग्राहकों के लिए एक जुलाई से ATM से निकासी करना महंगा पड़ने वाला है। देश के सबसे बड़े बैंक के खाताधारकों को एटीएम से निकासी पर मिल रही रियायतें एक जुलाई से बंद हो जाएंगी। एसबीआई ने इस समय सभी एटीएम लेनदेन को मुफ्त किया हुआ है। बैंक ने अपने खाताधारकों के लिए सिर्फ अपने एटीएम से ही नहीं, बल्कि दूसरे बैंकों के एटीएम से होने वाली लेनदेन पर भी शुल्क माफ किये हुए हैं। बैंक ने कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन को देखते हुए यह फैसला लिया था।

बैंक द्वारा एटीएम लेनदेन शुल्क को कोरोना वायरस महामारी के चलते अप्रैल, मई और जून महीने के दौरान माफ करने की घोषणा की गई थी। वित्त मंत्री द्वारा 24 मार्च को घोषणा की गई थी कि किसी भी दूसरे बैंक के एटीएम से निकासी करने पर ग्राहकों से तीन महीने तक कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। इसके बाद एसबीआई ने एटीएम से लेनदेन पर शुल्क माफ किया था।

SBI ने एक बयान में कहा था, 'वित्त मंत्री द्वारा 24 मार्च को की गई घोषणा को देखते हुए एसबीआई ने तय किया है कि एसबीआई एटीएम और दूसरे बैंको के ATM से मुफ्त लेनदेन की संख्या पार होने पर भी एटीएम लेनदेन के लिए 30 जून तक कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा।'

अब जून के अंत तक भी बैंक खाताधारकों को मिल रहे इस लाभ को आगे बढ़ाने के बारे में कोई घोषणा नहीं की गई है। इसका मतलब है कि एटीएम लेनदेन पर सेवा शुल्क केवल 30 जून तक ही माफ रहेंगे और एक जुलाई से एसबीआई ग्राहकों को मुफ्त संख्या से अधिक एटीएम लेनदेन होने पर सेवा शुल्क देना होगा। 

इस तरह अब एक जुलाई यानी बुधवार से एटीएम लेनदेन पर लगने वाले पुराने शुल्क फिर से लग जाएंगे। एसबीआई रेगुलर सेविंग्स बैंक अकाउंट्स वाले बैंक ग्राहकों को आठ फ्री लेनदेन की सुविधा देता है। इनमें से पांच लेनदेन एसबीआई के एटीएम के लिए और तीन दूसरे बैंकों के एटीएम के लिए है। वहीं, छोटे शहरों में एसबीआई ग्राहक 10 एटीएम लेनदेन मुफ्त कर सकते हैं। इनमें पांच लेनदेन एसबीआई और पांच दूसरे बैंको के एटीएम के लिए है।

इन फ्री एटीएम लेनदेन के अतिरिक्त ATM लेनदेन होने पर एसबाई ग्राहक को प्रत्येक नकदी लेनदेन पर 20 रुपये+जीएसटी और गैर नकदी लेनदेन पर आठ रुपये+जीएसटी देना होता है।

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस