नई दिल्ली, एएनआइ। एयर इंडिया के पायलटों की यूनियन ने कंपनी के डाइरेक्टर कैप्टन आरएस संधू के समक्ष फ्लाइट क्रू के टीकाकरण का मुद्दा उठाते हुए चेतावनी दी है कि अगर उन्हें टीका नहीं लगा तो काम ठप पर दिया जाएगा। एयर इंडिया के इंडियन कामर्शियल पायलट एसोसिएशन के महासचिव कैप्टन प्रवीन कीर्ति ने अपने पत्र में चेतावनी दी कि प्रबंधन ने यदि 18प्लस के फ्लाइंग क्रू के लिए जल्द ही देश भर में टीकाकरण कैंप नहीं लगवाए तो काम ठप कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि एयर इंडिया प्रबंधन ने कुछ स्थानों पर तो डेस्क पर काम करने वालों और घर से काम कर रहे लोगों के लिए टीकाकरण की तो व्यवस्था करा दी, लेकिन जान जोखिम में डाल कर विमान उड़ाने वाले पायलटों की सुधि नहीं ली। उन्हें उनके हाल पर छोड़ दिया गया।

उन्होंने पत्र में चेतावनी देते हुए कहा कि फ्लाइंग क्रू के लिए जल्द ही यदि टीकाकरण केंद्र स्थापित नहीं किए तो काम रोक दिया जाएगा। उल्लेखनीय है इस यूनियन में करीब एक हजार पायलट सदस्य हैं।

उन्होंने कहा कि एयर इंडिया प्रबंधन अपने पायलटों के कल्याण के लिए कोई काम नहीं कर रहा है। फ्लाइंग क्रू के कई सदस्य कोरोना से पीडि़त हैं। उन्हें आक्सीजन सिलेंडर नहीं मिल पा रहे हैं। वे अपने इलाज का खर्च भी खुद उठा रहे हैं। उन्होंने कहा प्रबंधन बस सर्कुलर और पत्र जारी कर अपनी जिम्मेदारी पूरी समझ लेता है।

कैप्टन कीर्ति ने कहा कि पायलटों को न तो हेल्थकेयर का लाभ मिल रहा है और न ही बीमा का। वे अब इस स्थिति में नहीं हैं कि जान जोखिम में डालकर उड़ानें संचालित करें। कीर्ति ने पायलटों को फ्रंट लाइन वर्कर का दर्जा न मिलने पर नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी को भी पत्र लिखा है। उल्लेखनीय है एयर इंडिया ने 13 अप्रैल को 45 साल से अधिक उम्र के अपने कर्मचारियों के लिए वृहद टीकाकरण कैंप का आयोजन किया था।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021