नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए) वेतन वृद्धि की मांग को लेकर नवंबर के अंत में बैंकों की पांच दिवसीय हड़ताल के लिए सर्कुलर जारी नहीं करेगा।

बैक संघों ने भारतीय बैंक संघ (आईबीए) के उस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है जिसमें बैंककर्मियों के वेतन को परिचालन लाभ और रिटर्न ऑन एसेट्स (आरओए) से लिंक कराने के लिए कहा गया था।

रविवार को सोशल मीडिया पर एआईबीईए का एक पत्र जारी हुआ था जिसमें कहा गया था कि यूएफबीयू ने 26 से 30 नवंबर तक पांच दिवसीय हड़ताल करने का निर्णय लिया था।

आईबीए के छह फीसद वेतन वृद्धि के प्रस्ताव पर नौ बैंक संघों की शीर्ष संस्था यूएफबीयू के निर्णय पर उन्होंने कहा कि संघ इससे सहमत नहीं थे।

उन्होंने कहा कि यूएफबीयू की हालिया बैठक में आईबीए के प्रस्ताव पर विचार किया गया और इस पर सहमति नहीं बनी।