नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक [एसबीआई] ने कुछ चुनिंदा परिपक्वता अवधि की सावधि जमा [एफडी] पर ब्याज दरों में एक प्रतिशत तक की बढ़ोतरी कर दी है। नकदी की कड़ी स्थिति के बीच बैंक ने यह कदम उठाया है।

एसबीआई ने एक बयान में कहा कि 7 से 90 दिन की सावधि जमा पर अब 8 प्रतिशत ब्याज दिया जाएगा। पहले ब्याज दर 7 फीसदी थी। नई दरें बुधवार से लागू होंगी। इसी तरह 91 से 179 दिन की और 181 से 240 दिन की जमा पर ब्याज दर क्रमश: 0.75 और एक प्रतिशत बढ़ाकर 8 फीसद कर दी गई है। 241 दिन से एक साल की जमा पर ब्याज दर में 0.25 प्रतिशत का इजाफा किया गया है। अब नई दर 8 फीसदी होगी।

इस माह सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ाने वाला एसबीआई सार्वजनिक क्षेत्र का चौथा बैंक है। माना जा रहा है कि अन्य बैंक भी इसी तरह का कदम उठा सकते हैं।

एक साल से अधिक की परिपक्वता अवधि की जमाओं पर हालांकि बैंक ने ब्याज दरों में बदलाव नहीं किया है। इससे पहले अगस्त, 2011 में एसबीआई ने सावधि जमा पर ब्याज दरों में संशोधन किया था। इसी माह बैंक आफ बड़ौदा और बैंक आफ इंडिया ने भी सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ाई थीं।

विश्लेषकों का कहना है कि लघु अवधि की जमाआें पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी इसलिए की जा रही है क्योंकि तरलता की स्थिति काफी सख्त है। नकदी की कमी की वजह से बैंकों ने कल भारतीय रिजर्व बैंक से 1.90 लाख करोड़ रुपये की उधारी ली है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस