नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। देश के दूरसंचार क्षेत्र में 2022 तक 5जी की शुरुआत हो जाएगी और इसके साथ ही अगले पांच साल में डिजिटल प्लेटफार्म पर पहुंच काफी तेज हो सकेगी। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के सचिव एस के गुप्ता ने गुरुवार को यह बात कही। उन्होंने कहा कि आर्टिफिशियल इंटीलिजेंस और बिग डाटा एनालिटिक्स के इस्तेमाल से उपभोक्ताओं के व्यवहार में काफी बदलाव आएगा।

गुप्ता ने कहा कि मीडिया उद्योग में भारी बदलाव आया है और नई प्रौद्योगिकी को अपनाकर सफलता हासिल की जा सकेगी। एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गुप्ता ने कहा, "दूरसंचार क्षेत्र 2022 तक 5जी में पहुंच जाएगा। अगले पांच साल में डिजिटल प्लेटफार्म तक पहुंच काफी तेजी से हो सकेगी।"

उन्होंने कहा कि आज भारत में 40 करोड़ लोगों की अच्छी गुणवत्ता के इंटरनेट तक पहुंच है। ऐसे में डिजिटल प्लेटफार्म के जरिये मीडिया सामग्री के इस्तेमाल की संभावना काफी अधिक है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्मार्टफोन की संख्या बढ़ने से मीडिया सामग्री के विकास की प्रकृति में बदलाव आएगा।

ट्राई के सचिव ने मीडिया उद्योग से कहा कि वह उपभोक्ताओं की उम्मीदों को पूरा करने का प्रयास करे और उनकी मांग पर ध्यान देते हुए ऐसी सामग्री का विकास करे जिससे मीडिया सामग्री का उपभोग बढ़ सके।

 

Posted By: Nitesh