नई दिल्‍ली, मनीश कुमार मिश्र। भारतीय स्‍टेट बैंक (SBI) ने इस त्‍योहारी सीजन के दौरान ग्राहकों को बड़ा झटका दिया है। SBI ने रेपो रेट लिंक्‍ड होम लोन रोक दिया है। अपने ट्विटर हैंडल के जरिये देश के सबसे बड़े बैंक ने यह जानकारी दी है। आपको बता दें कि भारतीय स्‍टेट बैंक देश का पहला ऐसा बैंक था जिसने अपने होम लोन को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के रेपो रेट से जोड़ा था। ट्विटर यूजर @yashuk22 के सवाल के जबाव में SBI ने कहा है, 'कृपया ध्‍यान दें कि RLLR आधारित होम लोन स्‍कीम वापस ले ली गई है। आप अपने होम लोन को एमसीएलआर आधारित लोन में ट्रांसफर कर स‍कते हैं।' RLLR का मतलब यहां रेपो लिंक्‍ड लेंडिंग रेट है।

SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने दैनिक जागरण को बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक के नवीनतम दिशानिर्देशों के अनुसार रेपो रेट लिंक्‍ड होम लोन में बदलाव किया जा रहा है। 

 

आपको बता दें कि SBI ने ऐसे समय में रेपो रेट लिंक्‍ड होम लोन स्‍कीम वापस ली है जब RBI ने सभी बैंकों से कहा है कि वे नये फ्लोटिंग रेट होम लोन, ऑटो लोन को 1 अक्‍टूबर से एक्‍सटर्नल बेंचमार्क से जोड़ें। संभव है कि 1 अक्‍टूबर से SBI एक नया प्रोडक्‍ट लॉन्‍च करे।

इसी हफ्ते एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा था कि बैंक RBI से इस बात पर स्‍पस्‍टीकरण चाह रहा है कि वह लंबी अवधि के होम लोन शुरुआत में कम दर पर पेश कर क्‍या उसे बाद में फ्लोटिंग रेट में बदल सकता है या नहीं। 

आपको बताते चलें कि RBI ने सभी बैंकों के लिए यह अनिवार्य कर दिया है कि वे खुदरा लोन को फ्लोटिंग रेट से जोड़ें, जिसका निर्धारण एक्‍सटर्नल बेंचमार्क जैसे रेपो रेट से किया जाए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस