नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। देश का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया एक विशेष प्रकार के जमा खाते की पेशकश अपने ग्राहकों से करता है। इस खाते का नाम एसबीआई बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट (SBI BSBD) है। इस बचत खाते की कई सारी खूबियां हैं। इस खाते में ग्राहक को एसबीआई के बचत खाते के बराबर ही ब्याज मिलता है, लेकिन साथ ही इस खाते में ग्राहकों को ऐसी कई स्पेशल सुविधाएं मिलती हैं, जो सामान्य बचत खाताधारकों को नहीं मिलती। इस खाते में ग्राहक को न्यूनतम बैलेंस रखने से छूट, फ्री एटीएम व डेबिट कार्ड और अधिकतम बैलेंस की सीमा से छूट सहित कई सुविधाएं मिलती हैं।

ये हैं SBI BSBD अकाउंट के फायदे :

1. इस अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस रखने की कोई पाबंदी नहीं होती है।

2. इस अकाउंट में अधिकतम बैलेंस की कोई सीमा नहीं होती है।

3. इस अकाउंट में ग्राहक को मुफ्त में एटीएम और डेबिट कार्ड उपलब्ध कराया जाता है। इन पर कोई सालाना रखरखाव शुल्क भी नहीं होता है।

4. इस अकाउंट में NEFT/RTGS के जरिए रुपयों की प्राप्ति या क्रेडिट मुफ्त है।

5. केंद्र या राज्य सरकार के चेक का कलेक्शन या डिपॉजिट फ्री है।

6. निष्क्रिय अकाउंट पर कोई शुल्क नहीं है।

7. अंकाउंट बंद करने का भी कोई शुल्क नहीं है।

8. एक महीने में अधिकतम चार बार नकद निकासी फ्री है।

ये लोग खुलवा सकते हैं अकाउंट

एसबीआई बीएसबीडी अकाउंट को एसबीआई नेट बैंकिंग (SBI Net Banking) या एसबीआई ऑनलाइन सेवाओं के जरिए एसबीआई केवाईसी जरूरतों को पूरा कर खुलवाया जा सकता है। जिस किसी के पास वैध केवाईसी दस्तावेज हैं, वह यह अकाउंट खुलवा सकता है। इस खाते को व्यक्तिगत, संयुक्त, या उत्तराधिकारी आधार पर खाता खुलवाया जा सकता है। भारतीय स्टेट बैंक की वेबसाइट के अनुसार, इस समय बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट पर 2.75 फीसद सालाना की दर से ब्याज दिया जा रहा है।

नहीं होना चाहिए दूसरा बचत खाता

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का कहना है कि एसबीआई बीएसबीडी खाताधारक के पास पहले से कोई बचत खाता नहीं होना चाहिए। अगर ग्राहक के पास पहले से कोई बचत खाता है, तो उसे वह खाता एसबीआई बीएसबीडी अकाउंट खोलने के 30 दिन के अंदर बंद कराना होगा।

Posted By: Pawan Jayaswal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस