मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। क्रेडिट कार्ड का चलन आजकल बहुत बढ़ गया है। बैंक भी लोगों को बड़ी आसान प्रक्रिया के साथ क्रेडिट कार्ड लेने के लिए ललचाते हैं। क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने का एक फैशन सा चल निकला है, लेकिन क्या आपको पता है कि क्रेडिट कार्ड का लोन बहुत महंगा होता हैं? दरअसल, क्रेडिट कार्ड के लोन के बारे में लोगों में कई प्रकार की गलतफहमियां हैं। जागरुकता के अभाव में लोग क्रेडिट कार्ड के कर्ज में फंसते चले जाते हैं और फिर यह उनके लिए बड़ी मुसीबत बन जाता है। आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने वाले हैं जिन पर अगर आप अमल करोगे, तो कभी कर्ज के बोझ तले नहीं दबोगे।

जरूरत हो तब ही लें क्रेडिट कार्ड

सबसे अव्वल और बड़ी बात यह है कि अगर आपको जरूरत हो, तो ही क्रेडिट कार्ड लें। सिर्फ फैशन के लिए कभी क्रेडिट कार्ड ना लें। क्रेडिट कार्ड पर मंथली ब्याज दर 2 से 3 फीसद के करीब होती है। यह आपको जरूर कम दिखती होगी, लेकिन अगर आप वार्षिक ब्याज निकोलोगे, तो यह बहुत अधिक होता है। कभी-कभी तो यह 40 फीसद से ज्यादा भी हो जाता है।

लोन चुकाने में हो परेशानी तो बंद करें उपयोग

अगर ग्राहक को क्रेडिट कार्ड का लोन चुकाने में परेशानी महसूस हो, तो उसे सबसे पहले अपने कार्ड का उपयोग करना कुछ समय के लिए बंद कर देना चाहिए। साथ ही उसे अपना लोन चुकाने के लिए योजना बनानी चाहिए। आपके पास और भी लोन हों, तो सबसे पहले क्रेडिट कार्ड वाले लोन को चुकाने की कोशिश करें, क्योंकि इस लोन पर बहुत ज्यादा ब्याज देना होता है। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आप कर्ज के जाल में फंस सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड बिल के भुगतान को मिस करना 

समय पर अपने क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान नहीं करना कभी ठीक नहीं होता। कभी भी पेमेंट रिमाइंडर को अनदेखा नहीं करें। इससे आपका क्रेडिट स्कोर घटेगा और आपको आगे किसी भी तरह का लोन लेने में कठिनाई हो सकती है। आपकी क्रेडिट कार्ड संबंधी एक्टिविटी क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों के पास होती है। पेमेंट मिस करने पर आप भविष्य में डिफॉल्टर भी बन सकते हैं। वहीं, आपके क्रेडिट स्कोर पर क्रेडिट कार्ड अकाउंट की उम्र का भी असर पड़ता है। इसलिए बिना किसी बड़ी वजह के अपना क्रेडिट कार्ड कैंसल नहीं कराना चाहिए।

नकदी निकालना है बुरा तरीका

क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर नकदी निकालने से हमेशा बचना चाहिए। यह क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल के सबसे बुरे तरीको में गिना जाता है। आपका दूसरा नुकसान यह है कि क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने पर कोई इंटरेस्ट फ्री पीरियड भी नहीं मिलता है। जबकि, नॉन कैश ट्रांजैक्शन पर एक इंटरेस्ट फ्री पीरियड मिलता है जो कि आमतौर पर 30 से 50 दिन का होता है। इस समय में आप लोन चुकाते हैं, तो आपको कोई अतिरिक्त शुल्क देना नहीं होता है।

क्रेडिट स्कोर पर बनाए रखें नजर

आप समय-समय पर अपनी क्रेडिट रिपोर्ट पर जरूर नजर बनाए रखें। एक्सपेरियन और CIBIL जैसी क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों से ग्राहक को वर्ष में एक बार निशुल्क अपनी रिपोर्ट की एक कॉपी मिल सकती है। अगर आप बैंक या NBFC से लोन लेते हैं, तो यह और भी जरूरी हो जाता है। अगर आप समझदारी और अनुशासन के साथ क्रेडिट कार्ड का यूज करेंगे, तो इसके बहुत फायदे हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pawan Jayaswal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप