Move to Jagran APP

Vegetable Price Hike: मानसून शुरू होते ही सब्जियों के दाम में लगी आग, टमाटर 100 के पार; ये है बढ़ी हुई कीमत

बिहार में मानसून शुरू होते ही सब्जियों के भाव में आग लग गई है। टमाटर 100 रुपये किलो तक पहुंच चुका है। महंगाई बढ़ने से कई लोग बाजार में हरी सब्जी खरीदने से कतरा रहे हैं। कुछ सब्जियों के भाव दोगुने तक बढ़ गए हैं। महंगाई बढ़ने के पीछे बाढ़ सबसे बड़ा कारण है। बाढ़ के चलते भारी मात्रा में फसलें नष्ट हुई हैं।

By Mukul Kumar Edited By: Mukul Kumar Wed, 10 Jul 2024 05:24 PM (IST)
Vegetable Price Hike: मानसून शुरू होते ही सब्जियों के दाम में लगी आग, टमाटर 100 के पार; ये है बढ़ी हुई कीमत
मानसून शुरू होते ही सब्जियों के दाम दोगुना

संवाद सूत्र, बगहा। बारिश का असर सब्जी के दामों पर पड़ा है। 10 दिन पहले तक सस्ते दाम पर बिकने वाली सब्जी दोगुने रेट पर बिक रही है। लोगों को उम्मीद थी कि बारिश में सब्जी का दाम कम हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।टमाटर स्थानीय थोक मंडी में 100 रुपये किलो बिक रहा है।

वहीं, प्रमुख चौराहों पर 100 से अधिक मूल्य में दुकानदार बेच रहे हैं। शहरों में जगह-जगह जलजमाव है तो जंगल से सटे इलाकों में पानी का बहाव अधिक है। लोगों ने सरकार की मदद लेकर अपनी सुरक्षा के लिए बाढ़ग्रस्त इलाका छोड़ ऊंची जगह का सहारा लेना शुरू कर दिया है।

ऐसे में लोकल स्तर पर होने वाली सब्जियां अधिक पानी होने से नष्ट हो गई है। लगभग दो सप्ताह में सब्जियों का दाम दोगुना हो गया है। प्याज, शिमला मिर्च और टमाटर के दाम बढ़ने से गृहणियां अधिक परेशान हैं।

सब्जियों की बिक्री में काफी गिरावट आई

पहले जब आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों में सब्जी होती थी, तो कम पैसे में लोग अधिक सब्जियों को घर ले जाते थे, लेकिन अब बाजार में सब्जी खरीदारी बेतिया-गोरखपुर जैसी जगहों से की जा रही है। दूरी अधिक होने से टेंपो व अन्य सवारियों की मदद से बेतिया-गोरखपुर से बगहा मंगवाया जाता है।

बाहर में सब्जियों की अधिक रुपये अदा कर खरीदारी की जाती है, तो बाजार में भी अधिक दामों में सब्जियों की बिक्री की जा रही है। ऐसे में लोग एक किलो की जगह आधा किलो ही खरीद पा रहे हैं। इसलिए बाजार में भी बाहर से कम सब्जियों की खरीदारी की जा रही है और पहले से बिक्री में भी काफी गिरावट आई है।

बगहा दो के मंत्री मार्केट निवासी अमरेश प्रसाद, शंकर, विपुल जायसवाल, संदीप, गोलू चौरसिया आदि का कहना है कि हाल के दिनों में सब्जी के दाम में बेतहाशा वृद्धि हुई है। इस पर किसी का लगाम नहीं है। लोगों की थाली से हरी सब्जियां व सलाद गायब है।

पहले और अब सब्जियों का रेट प्रतिकिलो पहले  अब 

  1. आलू 30- 35
  2. बैंगन 30- 50
  3. भिंडी 20- 50
  4. कटहल 20- 30
  5. लौकी 20- 50
  6. प्याज 30- 40
  7. टमाटर 40- 100
  8. तिरोई 20- 30
  9. मिर्च 40- 140
  10. परवल 25-50
  11. कद्दू 30- 50
  12. शिमला मिर्च 60- 140
  13. बोड़ा 30-50
  14. घेवड़ा 20- 35

यह भी पढ़ें-

Vegetable Price Rise: मौसम में बदलाव से बढ़ गए सब्जियों के दाम, गृहणियां हैं परेशान; जानिए ताजा रेट

Vegetable Price Hike: पहले गर्मी और अब बारिश की मार से बढ़ गए सब्जियों के भाव, आगे भी नरमी के नहीं हैं कोई आसार