बेतिया। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए बाहर से आने वाले लोगों को स्वास्थ्य जांच के बाद क्वारंटाइन सेंटरों में भेज दिया गया। ताकि किसी व्यक्ति से मिलने या संपर्क में आने से रोका जा सके। इसके लिए प्रखंड में 16 पंचायतों में सेंटर बने हैं। जिसमें 355 लोगों को ठहरने की व्यवस्था की गई है। प्रखंड के इनरवा पंचायत के क्वारंटाइन सेंटर राजकीय मध्य विद्यालय इनरवा बाजार में सुविधाओं की कमी के कारण वहां शामिल लोग नाराज दिखे। कहा यहां पर साफ सफाई की कोई व्यवस्था नहीं है। हद तो तब है कि मात्र दो रुम में एक एक पाल बिछा दिया गया है। जिसके लिए घर से बेड शीट मंगा कर यहां सो रहे हैं। यहां आवासन कर रहे प्रवासियों ने बताया कि साबुन, मास्क, सेनेटाइज, मच्छरदानी आदि की व्यवस्था नहीं है। हम लोगों को देखने वाला कोई नहीं है। ऐसे में हम लोग यहां पर बीमार पड़ जाएंगे। प्रखंड मुख्यालय स्थित राज्य संपोषित प्लस टू उच्च विद्यालय रमपुरवा में बुधवार को अलहे सुबह प्रधान सहायक रविशंकर कुमार रजक, पंचायत सचिव रामजी महतो, नजीर बसंत राम क्वरंटाइन सेंटर पहुंचे। जहां पर 8:30 सुबह में प्रवासियों को भोजन कराया जा रहा था। प्रवासियों ने बताया कि दिन में दो बार भोजन दिया जाता है। यहां पर अधिकारियों ने बताया कि 12 प्रवासियों में से 5 प्रवासी जांच में मौजूद मिले। मुखिया अशोक कुमार राम ने बताया कि जहां तक हो रहा है बेहतर से बेहतर व्यवस्था करने का प्रयास किया जा रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस