बगहा। गुरुवार को सूर्य के दर्शन नहीं हुए। दिन भर कनकनी बनी रही। लोग खुद की व्यवस्था से अलाव से ठंड दूर भगाए। एसडीएम विशाल राज ने शुरुआत में ही सार्वजनिक स्थलों पर अलाव जलाने का आदेश दिया था। उनके कथनानुसार जगह चिह्मिात कर सभी के लिए फंड भी निर्गत कर दिया गया। ग्रामीण क्षेत्रों से लेकर शहर तक कहीं भी अलाव नहीं जला। बगहा नगर में एक दो दिन जला लेकिन, ठंड के आगे वह नाकाफी था। इस गंभीर समस्या पर प्रशासन अभी विचार कर रहा है। 23 जनवरी को मौसम विभाग द्वारा पहले से ही कोल्ड डे घोषित था। लेकिन कहीं भी इस भीषण ठंड में अलाव नहीं दिखा। वह तो भला हो बगहा दो प्रखंड के कुछ कर्मियों की। जिन्होंने कांपते हाथों को देखकर कुछ लकड़ी व रदी कागज जला कर दो जगह लोगों को ठंड से बचाव करने में मदद कर दी। मौसम विभाग के अनुसार गत वर्ष आज के दिन का तापमान 25 डिग्री सेल्सियस के करीब था। आज 20 से नीचे रहा। दो दिन पूर्व से गुरुवार के दिन कोल्ड डे का अलर्ट जारी किया गया था। फिर भी बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, विभिन्न बैंक, कोर्ट परिसर, सभी सरकारी कार्यालय, निजी या सरकारी अस्पताल आदि तमाम जगहों पर ठिठुरते कांपते दर्जनों लोगों को देखा गया। मौसम की मार का सीधा असर रेल की रफ्तार पड़ दिखी। गुरुवार को 19040 अवध एक्सप्रेस छह घंटा विलंब से चली तो 15653 अमरनाथ पांच घंटे विलंब रही। गरीब रथ, पूर्वांचल और सत्याग्रह एक्सप्रेस को भी एक एक घंटे की देरी से चलने की सूचना है। इस दौरान ठंड में दर्जनों यात्री विभिन्न स्टेशनों पर ठिठुरते रहे। वहीं दो सवारी गाड़ियां क्रमश: 55042 व 55079 को स्थगित कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस