बेतिया । भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष दीपेंद्र सर्राफ के नेतृत्व में सोमवार को भाजपा पदाधिकारियों का एक दल बसवरिया स्थित रामजानकी मठ का मुआयना किया। इस दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा रामलला की क्षतिग्रस्त मूर्ति को भी देखा। वहां लोगों से भेंट कर मूर्ति तोड़े जाने के बारे में जानकारी लेने की कोशिश की। स्थानीय लोगों व पार्षद शंभू शर्मा ने भाजपा नेताओं से बताया कि मंदिर परिसर में आए दिन असामाजिक तत्वों एवं नशेरियों का आना जाना रहता है। मंदिर की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा आवश्यक है। इसे जान जिलाध्यक्ष ने अपने पास से मंदिर परिसर में सीसीटीवी कैमरा दो दिनों के अंदर लगवाने का आश्वासन दिया। मौके पर मौजूद लोगों से जिलाध्यक्ष ने एक वृहत मंदिर कमेटी बनाने का आग्रह किया और उन लोगों से मंदिर की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा, सुरक्षा हेतु चारदीवारी व सौंदर्यीकरण का एक प्राक्कलन तैयार करने को कहा। उन्होंने कहा कि यह काम जनसहयोग से पूरा किया जाएगा। श्री सर्राफ ने लोगों को आश्वासन दिया की इस प्रकार का घृणित एवं सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने वाला कार्य करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। कहां की एसपी से हमारी वार्ता हुई है। बहुत जल्द दोषियों की गिरफ्तारी होगी। दोषी बख्शे नहीं जाएंगे। भाजपा जिलाध्यक्ष के साथ जिला उपाध्यक्ष रवि सिंह, जिला महामंत्री गोल्डी जायसवाल, जिला मंत्री राजन सोनी, मंडल अध्यक्ष पूर्वी राधेश्याम पटेल, पश्चिमी मन्ना मिश्रा, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष धनरंजन कुशवाहा, पंचायती राज के जिला संयोजक दीपू कुशवाहा, आशीष गुप्ता,चंद्रशेखर सिंह, कन्हैया श्रीवास्तव, धर्मेंद्र कुमार, मुन्ना सर्राफ स्थानीय पार्षद शंभू शर्मा सहित कई लोग मौजूद रहे।

----------------------------

48 घंटे का अल्टीमेटम, नहीं तो सड़क पर उतरेंगे विहिप बजरंग दल के कार्यकर्ता

इधर विश्व हिन्दू परिषद बजरंग दल ने बसवरिया मे राम जानकी मंदिर की मूर्ति तोड़ने की घटना को गंभीरता से लिया है और कड़ा विरोध जताया है। विहिप नेताओं ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि इसमें शामिल दोषियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस- प्रशासन को 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया है। यदि दोषियों की गिरफ्तारी 48 घंटे के भीतर नहीं होगी तो विश्व हिदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता जिला व बिहार में सड़क पर उतरेंगे। विहिप नेताओं ने बताया कि इस घटना के संबंध में बेतिया विहिप पदाधिकारियों से दूरभाष पर जानकारी लेने के बाद विहिप के बिहार झारखंड के क्षेत्र संपर्क प्रमुख अशोक श्रीवास्तव अधिवक्ता ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया कि जिसनें भी मूर्ति तोड़ने का काम किया है उसकी गिरफ्तारी अविलंब होनी चाहिए। नही तो विहिप बजरंगदल द्वारा जारी 48 घंटे का अल्टीमेटम खत्म होते ही 49 वे घंटे के कार्यकर्ता चम्पारन सहित पूरे बिहार में सड़कों पर उतरेगे। विहिप नेताओं ने कहा है कि एक सोची समझी साजिश के तहत लगातार हमले हो रहे है। विश्व हिदू परिषद ने बिहार सरकार और केन्द्र सरकार से मांग किया है कि जेहादी मानसिकता वालो की नागरिकता रद्द करे और इस प्रकार की घट रही घटनाओं पर अविलंब त्वरित कार्रवाई करें। अन्यथा बिहार मे बहुत बड़ा आन्दोलन होगा।

Edited By: Jagran