वैशाली। सोनपुर के पावन नारायणी तट पर स्थित गजेंद्र मोक्ष देवस्थानम से सोमवार को देवोत्थान के मौके पर विशाल शोभायात्रा निकाली गई। इस शोभायात्रा के साथ ही धार्मिक रूप से सोनपुर मेले का आगाज हो गया। शोभा यात्रा में बैंड बाजा के साथ बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए।

आरंभ में मंदिर के पीठाधीश्वर जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी लक्ष्मणा चार्य जी महाराज ने संपूर्ण वैदिक विधि विधान के साथ मंत्रोच्चार के बीच इस कलश यात्रा को रवाना किया। हाथी घोड़े बैंड बाजों के साथ कलश यात्रियों का जत्था विभिन्न मार्गों तथा चौक चौराहा से मेला एरिया को पार कर पुन: मंदिर पहुंची। इसके पहले पावन नारायणी से जलभरी की गई। इस कलश यात्रा के साथ ही धार्मिक स्थल पर हरिहर क्षेत्र मेले का आरंभ हो गया। वैसे सरकारी स्तर पर 21 नवंबर बुधवार को इस मेले का उद्घाटन किया जाना है। जिसकी तैयारियां अंतिम दौर में है। लंबे समय से यह परंपरा रही है कि गजेंद्र मोक्ष देवस्थानम से देवोत्थान की तिथि पर गाजे बाजे के साथ कलश यात्रा निकाली जाती है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप