वैशाली, जागरण संवाददाता। महुआ थाना क्षेत्र के मिर्जानगर पंचायत के चंवर में जेसीबी से खोदे गए गड्ढे में जमे पानी में नहाने के दौरान चार किशोर डूब गए। जिसमें से दो किशोर की मौत घटनास्थल पर ही डूब कर हो गई। जबकि दो किशोर को स्थानीय लोगों ने किसी तरह पानी से बाहर निकाल कर बचा लिया। दो किशोर की हुई मौत की सूचना के बाद घटनास्थल पर लोगों की भारी भीड़ जुट गई। घटना की सूचना पर पुलिस एवं स्थानीय पदाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों किशोर के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार भदवास पंचायत के वार्ड संख्या एक के रहने वाले रामनाथ पासवान का 15 वर्षीय पुत्र पवन कुमार, सीताराम पासवान की 18 वर्षीय पुत्री प्रीति कुमारी, अर्जुन पासवान की 13 वर्षीय पुत्र विकास कुमार एवं शिवम कुमार 08 वर्ष के अलावा अन्य बच्चे मिर्जानगर चंवर में स्थित पोखर के निकट बकरी चरा रहे थे।

जेसीबी से खोदा गया था गड्ढा

इसी दौरान सभी बच्चे पोखर में नहाने चले गए। पोखर में जेसीबी से खोदे गए गड्ढे के गहरे पानी में एक के बाद एक चारों बच्चे डूबने लगे। आसपास के पशुपालक जो अपनी भैंस चरा रह थे, उन्होंने बच्चे को डूबते हुए देखा। उसके बाद दो-तीन पशुपालकों ने पोखर में छलांग लगाई तथा किसी तरह विकास एवं शिवम को बाहर निकाल लिया। प्रीति एवं पवन जेसीबी से खोदे गए गहरे गड्ढे में चले गए, जिससे उसकी मौत हो गई।

दो की बचाई गई जान

घटना की सूचना मिलते ही गांव से काफी संख्या में लोग पहुंच गए तथा दोनों बच्चों की खोज में पानी में छलांग लगाई तथा प्रीति एवं पवन को बाहर निकाला एक साथ दो किशोर की हुई मौत से उसके घर में कोहराम मच गया है। इधर, घटना की सूचना मिलते ही अंचलाधिकारी अमर कुमार सिन्हा, महुआ पुलिस, भदवास पंचायत की मुखिया पति अजय राय, वार्ड सदस्य संघ के अध्यक्ष मुकेश कुमार, बनारस राय, विपिन कुमार राय सहित अन्य घटनास्थल पर पहुंच गए।

गांव के लोग एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि ने मृतक के स्वजनों को मुआवजा दिलाने की मांग कर रहे हैं। मौके पर पहुंचे सीओ ने स्वजनों को सरकारी प्रावधान के आलोक में दोनों बच्चों के आश्रितों को मुआवजा उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है।

Edited By: Umesh Kumar