वैशाली। शहर के लोगों को जलजमाव से निजात दिलाने के जल्द ही वाटर ड्रेनेज सिस्टम तैयार किया जाएगा। यह निर्णय शनिवार को हजीपुर नगर परिषद बोर्ड की हुई साधारण बैठक में लिया गया। सदस्यों ने चार वर्ष पूर्व नगर विकास एवं आवास विभाग, पटना बिहार की संस्था वुडको द्वारा तैयार डीपीआर में संशोधन के लिए संबंधित एजेंसी को भेजने तथा संशोधित डीपीआर के आलोक में कार्रवाई की स्वीकृति दी। साथ ही लगभग ढाई करोड़ रुपये की राशि से नगर परिषद क्षेत्र में विकास कार्य कराने, नगर की सड़कों व गलियों में रोशनी के लिए आवश्यकतानुसार एलईडी लाइट की खरीदारी करने का भी निर्णय लिया गया। बैठक में सदस्यों ने शहरी क्षेत्र में आवासहीन व्यक्तियों के लिए सबके आवास योजना के तहत चयनित लाभुकों के आवेदन की स्वीकृति के बाद उसके अनुमोदन के लिए नगर विकास विभाग भेजने की सहमति दी गई।

हाजीपुर नगर परिषद कार्यालय सभाकक्ष में हुई नगर परिषद बोर्ड की साधारण बैठक में सदस्यों ने नगर परिषद क्षेत्र में जलजमाव की समस्या पर चर्चा करते हुए इसकी निकासी की कारगर व्यवस्था करने पर बल दिया। सदस्यों ने कहा कि क्षेत्र में ड्रेनेज की व्यवस्था नहीं होने की वजह से बरसात के इलाके में जलजमाव की समस्या काफी गंभीर हो जाती है। खासकर नीचले इलाके के लोग बरसात में नारकीय जीवन झेलने को विवश हो जाते हैं। सदस्यों ने कहा कि चार वर्ष पूर्व नगर विकास विभाग की संस्था वुडको ने जलनिकासी के लिए स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम को तैयार किया था। सदस्यों ने डीपीआर में दुबारा संशोधन के लिए विभाग के पास भेजने का निर्णय लिया। साथ ही वित्तीय वर्ष 2017-18 में 14वीं वित्त आयोग की अनुशंसा के आलोक में प्रथम किस्त के रूप में प्राप्त 2 करोड़ 60 लाख 889 रुपये की राशि से शहरी क्षेत्र में होने वाले विकास कार्यों की रूपरेखा पर चर्चा की गई।

बैठक में हाजीपुर विधायक अवधेश ¨सह, नगर परिषद सभापति संगीता कुमारी, उपसभापति रमा निषाद, कार्यपालक पदाधिकारी सिद्धार्थ हर्षव‌र्द्धन, वार्ड पार्षद शोभा देवी, अवधेश राय, शकुंतला देवी, सुमित्रा देवी, जागा साह, सुनील चौधरी, मो. जावेद अंसारी, मो. हनीफ, अजय कुमार ¨सह, बिजली भगत, कृष्णा देवी, माला ¨सह आदि मौजूद थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप