वैशाली। पातेपुर थाना क्षेत्र के डुमरा पुरी चौक पर विवाहिता नूतन देवी की शनिवार को गोली मारकर हत्या कर दिए जाने के बाद हुए बवाल और उग्र भीड़ के द्वारा पुलिस पर हमला कर दिए जाने के मामले में पातेपुर पुलिस ने 47 लोगों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की है। वहीं तीन-चार सौ अज्ञात लोगों के विरुद्ध भी प्राथमिकी दर्ज की गई है।

नूतन देवी की हत्या के बाद उग्र भीड़ में शामिल शनिवार को गिरफ्तार किए गए आठ लोगों को पुलिस ने न्यायिक हिरासत में हाजीपुर भेज दिया। पातेपुर पुलिस ने मृतका के ससुराल वालों के विरुद्ध भी हत्या में साजिश रचने की प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस मीडिया के सामने कुछ भी बोलने से परहेज कर रही है ।

मालूम हो कि शनिवार की सुबह करीब नौ बजे नूतन देवी अपने पुत्र को स्कूल छोड़कर लौट रही थी। इसी क्रम में डुमरा पुरी चौक के समीप बाइक सवार अपराधियों ने उसके सिर में गोली मारकर कर हत्या कर दी थी। घटना से आक्रोशित लोगों ने मृतका के पति के घर पर हमला कर आगजनी की। उसके बाद पुलिस ने मोर्चा संभाला। पुलिस के देखते ही उपद्रवी और उग्र हो गए एवं पुलिस पर भी पत्थरबाजी शुरू कर दी। उग्र भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस ने दस राउंड से अधिक फायरिग की जिसमें एक किशोर घायल हो गया। किशोर पीएमसीएच में इलाजरत है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस ने उपद्रव के दौरान पकड़े गये आठ लोगों को रविवार को हाजीपुर जेल भेज दिया।

इस मामले में मृतका के ससुराल वालों के विरुद्ध भी हत्या का षडयंत्र रचने की प्राथमिकी दर्ज की गई है। डुमरा गांव में स्थिति पूरी तरह सामान्य है। बीएमपी के जवान कैंप कर रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप